Homeअपराधगोरखनाथ मन्दिर पर हमला आतंकी साजिश: अवनीश

गोरखनाथ मन्दिर पर हमला आतंकी साजिश: अवनीश

गोरखपुर में गोरखनाथ मन्दिर के बाहर युवक द्वारा धारदार हथियार से गेट नम्बर एक पर पुलिसकर्मियों पर हमला करने के मामले में अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी व अपर पुलिस महानिदेशक, कानून-व्यवस्था, प्रशांत कुमार ने एक प्रेसवार्ता कर कहा कि गोरखनाथ मन्दिर पर इस प्रकार किया गया हमला एक साजिश के तहत हुआ है और इसे आतंकी साजिश के तौर पर देखा जा रहा है।

वहीं हमलावर युवक को काबू में करने वाले दो सिपाहियों को भी गम्भीर चोटें आई हैं जिनका इलाज चल रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घायल सिपाहियों को पांच-पांच लाख रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने की घोषणा की है।

एसीएस गृह अवनीश अवस्थी ने कहा कि गोरखनाथ मंदिर में पुलिस के जवानों पर जो हमला हुआ है वह साजिश का हिस्सा है। इसको आतंकी घटना कहा जा सकता है। उन्होंने कहा कि इस पूरी घटना की जांच यूपी एटीएस को दी गई है।

मुख्यमंत्री ने आदेश दिया है कि यूपी एटीएस और यूपी एसटीएफ एक साथ काम करेंगे। जिन तीन जवानों ने घटना को विफल किया, गोपाल गौड़, अनिल पासवान और अनुराग राजपूत को 5 लाख रुपए नकद इनाम देने की घोषणा की है।

मुख्यमंत्री ने आदेश दिया है कि इसके लैपटॉप-मोबाइल में जो भी जानकारी मिली है उसकी गंभीरता से जांच की जाए। जरूरत पड़ने पर प्रदेश के बाहर से भी साक्ष्य जुटाए जाएंगे।

घायल जवानों को दिए जाएंगे 5-5 लाख रुपए 
यूपी एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार ने कहा कि कल गोरखनाथ मंदिर में हमारे दो कर्मियों पर हमला करने वाले व्यक्ति को पकड़ लिया गया है। वह गोरखपुर का रहने वाला है, उसके पास से दरांती बरामद हुई है। उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

इसमें आतंकी एंगल हो सकता है, मामला एटीएस को ट्रांसफर किया जाएगा। स्थिति नियंत्रण से बाहर हो सकती थी। यूपी एटीएस और यूपी एसटीएफ मामले की जांच करेगी। इस घटना का भंडाफोड़ करने वाले 3 पीएसई कांस्टेबल को सीएम द्वारा घोषित 5 लाख रुपये दिए जाएंगे।

गंभीर साजिश की थी तैयारी
एडीजी लॉ एंड ऑर्डर ने कहा कि शाम 7 बजे गेट नंबर एक पर एक व्यक्ति ने  पुलिसकर्मियों पर हमला किया और धार्मिक नारे लगाए। दो जवानों गोपाल गौड़ और अनिल पासवान को गंभीर चोटे आईं हैं।

वहां के सजग पुलिसकर्मियों ने उस व्यक्ति को काबू किया और गिरफ्तार किाया है। उसके पास से जो चीजें मिली हैं, उनसे लगता है कि यह गंभीर साजिश की तैयारी थी।

हम लोग इससे इनकार नहीं कर सकते कि यह आतंकी घटना नहीं थी। एटीएस की टीम वहां गई है। जो दस्तावेज हम लोगों को मिले हैं वे काफी सनसनीखेज हैं।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates