Homeउत्तराखंडभाजपा का दामन थाम सकते है उत्तराखंड कांग्रेस के 10 विधायक

भाजपा का दामन थाम सकते है उत्तराखंड कांग्रेस के 10 विधायक

देहरादून:उत्तराखण्ड में राजनैतिक सरगर्मियां तेज हो गई है। उत्तराखंड विधानसभा चुनाव (Uttarakhand Assembly Election) का परिणाम आने के बाद से लगातार उत्तराखंड कांग्रेस (Uttarakhand Congress) में टूट की आशंका गरमाती दिख रही है। प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janata Party) ने 70 सदस्यीय विधानसभा में 47 सीटों पर जीत दर्ज की। वहीं, कांग्रेस के पाले में 19 सीटें आईं। 2 सीटों पर बहुजन समाज पार्टी (BSP) और 2 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की। इस चुनाव की सबसे खास बात यह रही कि भाजपा के सीएम उम्मीदवार पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) और कांग्रेस के पूर्व सीएम हरीश रावत (Harish Rawat) चुनाव हार गए। हालांकि, भाजपा ने एक बार फिर पुष्कर सिंह धामी को मुख्यमंत्री बनाया है। इसके बाद से भाजपा का अभियान जारी है।

पुष्कर सिंह धामी से कांग्रेस के सीनियर नेताओं के मुलाकात की चर्चा है। माना जा रहा है कि भाजपा कांग्रेस के विधायक का इस्तीफा कराकर पुष्कर सिंह धामी को एक बार फिर चुनावी मैदान में उतारने की तैयारी में है। खटीमा से धामी को विधानसभा चुनाव में हार मिली थी। अब यह खबर आ रही है कि कांग्रेस के एक नहीं, 10 विधायक टूटकर भाजपा से जुड़ने की तैयारी कर रहे हैं। रविवार को कांग्रेस हाईकमान ने प्रदेश अध्यक्ष, नेता प्रतिपक्ष और उप नेता प्रतिपक्ष के नाम की घोषणा की थी। ऐन चुनाव से पहले कांग्रेस में गए बीजेपी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे यशपाल आर्य को नेता प्रतिपक्ष बनाया गया। वहीं, रानीखेत विधानसभा से चुनाव हारने वाले करण माहरा को प्रदेश अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी दी गई।

यह भी पढ़ें :हिंदू नेताओं पर हमले के मामले में कांग्रेस नेता गुरसिमरन मंड से NIA करेगी पूछताछ

नेतृत्व परिवर्तन से बढ़ी नाराजगी
प्रदेश नेतृत्व में हुए फेरबदल से कांग्रेस के कई बड़े नेता नाराज हैं। बताया जा रहा है कि इनमें से कई विधायक बीजेपी के संपर्क में हैं। बीजेपी इन विधायकों को पार्टी में शामिल करा सकती है। प्रदेश में साल 2016 की तरह दलबदल के संकेत मिल रहे हैं। माना जा रहा है कि कांग्रेस के आठ विधायक बीजेपी के संपर्क में हैं। ये जल्द ही बीजेपी से जुड़ सकते हैं। इनमें 5 विधायक कुमाऊं और 3 गढ़वाल के बताए जा रहे हैं। इस तरह कांग्रेस में बड़ी बगावत होने जा रही है।

नेता प्रतिपक्ष और अध्यक्ष से नेता नाराज
यशपाल आर्य के नेता प्रतिपक्ष और करण माहरा के प्रदेश अध्यक्ष बनने से कई नेताओं के नाराज होने की खबरें आ रही हैं। ये नाराजगी कांग्रेस में बड़ी टूट की वजह बन सकती है। कांग्रेस के 10 विधायक कल देहरादून में गोपनीय बैठक करेंगे। बैठक में विधायक हरीश धामी, मनोज तिवारी, मदन बिष्ट, मयूख महर, खुशाल सिंह अधिकारी, ममता राकेश, विक्रम नेगी, राजेंद्र भंडारी शामिल हो सकते हैं। कांग्रेस द्वारा उपेक्षा से नाराज कुछ विधायकों के जल्द ही कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल होने की सुगबुगाहट है।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates