Homeविदेशब्रिटेन में 40 रूपए में बिक रहा एक खीरा , जाने वजह

ब्रिटेन में 40 रूपए में बिक रहा एक खीरा , जाने वजह

लंदन: ब्रिटेन में बाजारों से खीरा, मिर्च, टमाटर जैसी सब्जियां (UK Vegetable Shortage) गायब होने लगी हैं। हालात यहां तक आ गए हैं कि ब्रिटिश सुपरस्टोर में एक पीस खीरे (UK Cucumber Crisis) की कीमत 42 रुपये तक पहुंच गई है। खीरा गर्म जलवायु में उगाई जाती है। ऐसे में ब्रिटेन में इस सब्जी को पैदा करने के लिए ग्लास हाउसेज बनाए जाते हैं। इन ग्लास हाउसेज को गर्म रखने के लिए प्राकृतिक गैस का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन, रूस-यूक्रेन युद्ध के कारण ब्रिटेन में गैस की कीमतों में बेहताशा बढ़ोत्तरी हुई है। इस कारण ब्रिटिश ग्लास हाउस मालिक इतनी महंगी गैस खरीदकर खीरा उगाने में असमर्थ हैं।

यह भी पढ़ें : यूपी की तरह अब एमपी में भी चलेगा बुलडोजर

गैस के बढ़ती कीमतों से किसान परेशान
ब्रिटेन में पिछले साल के अंत से ही गैस के दाम बढ़ने शुरू हो गए थे। जिस कारण इन ग्लास हाउसेज में खेती करने वाले किसान मिर्च, बैगन और टमाटर की फसल नहीं लगा सकें। नतीजा यह हुआ कि पूरे ब्रिटेन में इन सब्जियों की किल्लत होने लगी और विदेशों से आयात करना पड़ा। थोड़े-बहुत किसान जो इन सब्जियों का उत्पादन कर रहे हैं, उनकी लागत इतनी ज्यादा आ रही है कि बाजार से रिटर्न मिलना लगभग नामुमकिन हो गया है।

ब्रिटेन में खेती के लिए भी इस्तेमाल की जाती है गैस
पूरे ब्रिटेन में गर्म जलवायु की सब्जियों को पैदा करने के लिए गैस की जरूरत पड़ती है। इससे किसान बेरहम मौसम का मुकाबला करते हैं। लेकिन, गैस की बढ़ती कीमतों ने किसानों की चिंता को बढ़ा दिया है। ऊर्जा संकट और यूक्रेन पर रूस के आक्रमण ने दुनियाभर में खाद्य आपूर्ति को प्रभावित किया है। खासकर यूरोपीय देशों में वैश्विक अनाज उत्पादन और तिलहन की पैदावार पर गहरा असर पड़ा है।

होटलों में नहीं मिल रहे खीरे से बने प्रॉडक्ट
ब्रिटेन में मुद्रास्फीति ऐतिहासिक स्तर पर पहुंच गई है। ऐसे में खाने-पीने की चीजों के दाम में और ज्यादा बढ़ोत्तरी की आशंका है। होटल व्यवसाय से जुड़े दिग्गजों ने आशंका जताई हैं कि विंबलडन टेनिस टूर्नामेंट के दौरान विदेशों से आने वाले प्रशंसकों को इस बार लंदन के बड़े होटलों में ब्रिटिश कुकुंबर सैंडविच खाने को नहीं मिलेगा। ब्रिटेन की ट्रेड बॉडी ब्रिटिश ग्रोअर्स का कहना है कि पिछले साल ब्रिटेन में खीरे के उत्पादन में लगभग 25 पेंस की लागत आई थी, जो अब बढ़कर 70 पेंस तक पहुंच चुकी है।

एक खीरे की कीमत 43 पेंस
मंगलवार को ब्रिटेन के सुपरमार्केट में एक खीरा 43 पेंस तक बिक रहा था। ब्रिटिश उत्पादक टोनी मोंटालबानो ने कहा कि गैस की कीमतें आसमान छू रही हैं, ये हमारे व्यवसाय के लिए चिंता की बात है। हमारा परिवार पिछले 54 साल से खीरे की खेती कर रहा है, लेकिन अब हम मुश्किल में हैं। अगर हालात ऐसे ही बने रहे तो हमें खीरे की खेती को बंद करना पड़ेगा।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates