Homeउत्तर प्रदेशसुभासपा को तोड़ने की कोशिश में अखिलेश : राजभार

सुभासपा को तोड़ने की कोशिश में अखिलेश : राजभार

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) में मचे भगदड़ से आहत पार्टी अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने इसके लिए सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि सपा संरक्षक मुलायम सिंह और अखिलेश नहीं चाहते हैं कि कोई भी पिछड़ा नेता आगे बढ़े।

ये भी पढ़ें –इस वर्ष में लागू होगी नई पर्यटन नीति

राजभर ने बयान जारी कर कहा कि दोनों बाप-बेटे ने पिछड़े वर्ग के लोगों को मौका मिलने पर पीछे धकेलने का काम किया है। सपा अध्यक्ष ने सुभासपा के पुराने नेताओं को तोड़ने के लिए अपने नवरत्नों को लगा दिया है। सुभासपा छोड़ने के लिए एमएलसी बनाने का प्रलोभन दिया जा रहा है। इसलिए मैंने भी उन नेताओं को कह दिया है कि अगर सपा एमएलसी बनाती है तो चले जाओ।उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर अखिलेश और उनके नवरत्नों द्वारा की जा रही साजिश को बंद नहीं किया गया तो वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव में सपा का पूर्वांचल में खाता भी नहीं खुलेगा।

सुभासपा अध्यक्ष ने कहा कि सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट पर अखिलेश को बोलने का हक नहीं है। उन्होंने बसपा सुप्रीमो मायावती पर भी निशाना साधा। कहा कि वह रोज विभिन्न मुद्दों पर ट्वीट करती हैं लेकिन पिछड़ों के आरक्षण के मुद्दे पर कभी नहीं बोलती हैं। अखिलेश व मायावती को पिछड़ों के हितों के मुद्दे पर बोलने में डर लगता है।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates