Homeकर्नाटकअमित शाह पहुंचे कर्नाटक, सियासी हलचल तेज़

अमित शाह पहुंचे कर्नाटक, सियासी हलचल तेज़

अमित शाह कर्नाटक के दो दिवसीय दौरे पर हैं। यहां अगले साल विधानसभा चुनाव होना है। चर्चा है कि चुनाव से पहले बीजेपी आलाकमान पार्टी की स्टेट यूनिट में कुछ बड़े बदलाव कर सकता है। हालांकि, भाजपा के सूत्रों ने कहना है कि पार्टी किसी भी दबाव के आगे नहीं झुकेगी और राज्य में नेतृत्व परिवर्तन पर विचार नहीं हो रहा है।

यह भी पढ़ें : चंडीगढ़ पर पूर्ण अधिकार पाने के लिए भगवंत मान ने विधानसभा में रखा प्रस्ताव

शाह गुरुवार देर रात बेंगलुरु के एचएएल हवाई अड्डे पर पहुंचे। यहां कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई, केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी और राज्य के अन्य नेताओं ने उनका स्वागत किया। गृह मंत्री स्वर्गीय श्री श्री श्री शिवकुमार स्वामी की 115वीं जयंती के अवसर पर सिद्धगंगा मठ में सुबह करीब 10.50 बजे उन्हें श्रद्धांजलि दी। गृह मंत्रालय के अनुसार, वह दोपहर करीब 2.20 बजे मुद्दनहल्ली के सत्य साई ग्राम में 200 बिस्तरों वाले अस्पताल की आधारशिला रखने सहित राज्य के अन्य कार्यक्रमों में भी शामिल होंगे। शाह शाम करीब चार बजे बेंगलुरु पैलेस में कर्नाटक राज्य सहकारी सम्मेलन में भी शामिल होंगे।

राज्य के भाजपा कोर ग्रुप के साथ शाह की बैठक
इसके अलावा शाह राज्य के भाजपा कोर ग्रुप के साथ बैठक भी करेंगे। यह बैठक इन अटकलों के बीच काफी अहम हो जाती है कि मुख्यमंत्री के साथ-साथ पार्टी अध्यक्ष सहित राज्य में नेतृत्व परिवर्तन हो सकता है। हालांकि भाजपा के शीर्ष सूत्रों ने राज्य में नेतृत्व परिवर्तन की किसी भी संभावना को खारिज कर दिया।

‘दबाव में नहीं होगा कोई परिवर्तन’
सूत्रों ने कहा कि राज्य में नेतृत्व परिवर्तन का कोई सवाल ही नहीं है। प्रेसिडेंट (नलिन कटील) को कार्यकाल दिया गया है और वह निश्चित रूप से इसे पूरा करेंगे। मुख्यमंत्री को लेकर एक अन्य सूत्र ने कहा कि किसी दबाव में सीएम का परिवर्तन नहीं होगा। सूत्र ने कहा, “यह भाजपा है और कोई अन्य पार्टी नहीं है। हम किसी भी मुख्यमंत्री को दबाव में नहीं बदलते हैं। बोम्मई एक बहुत अनुभवी राजनेता और एक सक्षम मुख्यमंत्री हैं।”

 

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates