Homeअपराधअनुपम दुबे के गुनाहों की लंबी फेहरिस्त में एक और मुकदमा दर्ज

अनुपम दुबे के गुनाहों की लंबी फेहरिस्त में एक और मुकदमा दर्ज

फर्रुखाबाद। उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से कानपुर मंडल के सबसे बड़े माफिया डी टू 25 गैंग के सरगना अनुपम दुबे पर हनुमान जी ट्रस्ट की जमीन हड़पने का मुकदमा दर्ज हुआ है इसमें उनके साथ चकबंदी विभाग के अधिकारी और कर्मचारी भी शामिल हैं।

यह भी पढ़ें : श्रीलंका के राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे ने पीएम मोदी का धन्यवाद दिया

उत्तर प्रदेश सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति तथा माफिया और अपराधियों के विरुद्ध की जा रही कार्यवाही के क्रम में अब जनता भी साहस के साथ माफियाओं से डटकर मुकाबला कर रही है

एकलव्य कुमार की तहरीर पर ट्रस्ट सम्पत्ति, वक्फ श्री हनुमान जी महाराज विराजमान मँदिर बाग नंबर ४३६ गाँव अर्राह पहाड़पुर को षडयंत्र कर अपने गुर्गों से बिकवाने व कब्जे की शिकायत पर थाना मऊदरवाजा पुलिस ने सुसंगत धाराओं में तत्कालीन चकबंदी अधिकारी समेत पाँच के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।
थाना मऊदरवाजा क्षेत्र के बहादुरगंज निवासी एकलव्य कुमार पुत्र स्व. रामलाल की ओर से दी गई तहरीर में बताया गया है कि हनुमान जी ट्रस्ट की जमीन को अनुपम दुबे ने अपने गुर्गे रमेश चन्द्र गुप्ता पुत्र मंगूलाल व अभिषेक पुत्र महेशचन्द्र निवासी निगोह खास तहसील छिबरामऊ, कन्नौज व अनुराग पुत्र ओमप्रकाश निवासी रनधीरपुर छिबरामऊ के नाम पूर्व नियोजित षडयंत्र छल-कपट कर फर्जी तरीके से मृतक ट्रस्टीगणों के खिलाफ चकबंदी अधिकारी सत्यप्रकाश सचान नई इकाई देवरामपुर से षडयंत्र कर उक्त भूमाफियाओं के नाम दर्ज करवा दिया।

भूमाफियाओं ने अपने गुर्गों से ट्रस्ट सम्पत्ति के फर्जी बैनामे कूट रचित प्रपत्रों के आधार पर कर दिये। फर्जी आदेश, खतौनी वर्ष १४२५-१४३० फसली पर दर्ज सभी इन्दराजों को निरस्त खतौनी दुरुस्त कर सभी भूमाफियाओं, विके्ताओं, क्रेताओं फर्जी गवाहों, रजिस्ट्रार आदि के विरूद्ध कानूनी कार्रवाई की जाये।
मुख्यमंत्री, जिलाधिकारी को सम्बन्धित प्रार्थना पत्र तहरीर के मुताबिक मऊ दरवाजा थाना पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत किया है।

प्रभारी निरीक्षक आमोद कुमार सिंह ने मामले की विवेचना चन्द्रिका प्रसाद सब इंस्पेक्टर को सौंपी है।
बताते चलें कि हनुमान जी ट्रस्ट की जमीन खरीदने के मामले में मॉडर्न अल्ट्रासाउंड सेंटर के संचालक डॉ. प्रभात गुप्ता समेत १३७ लोगों का फंसना तय है। पुलिस के मुताबिक उन सभी को विवेचना के दौरान तलब किया जायेगा।

अकेले डॉ. गुप्ता ने अनुपम दुबे के गुर्गों से १७ बीघा जमीन खरीदी है। इससे पहले पूर्व सांसद छोटे सिंह यादव के पुत्र मोहन सिंह पूर्व कानूनगो सोबरन सिंह यादव तथा शशि प्रभा की जमीन भी ठंडी सड़क पर कूट रचित दस्तावेजों एवं जबरिया अनुपम दुबे ने घेर कर अपना गुरु शरणम आलीशान होटल बना लिया है
इस समय दो एनएसए का गैंगस्टर में मैनपुरी की जेल में निरुद्ध और उनकी गुनाहों की फेहरिस्त लगातार लंबी होती जा रही है हालांकि जिले में जनप्रतिनिधियों का संरक्षण मिलने के कारण जिले के अधिकारी पशोपेश में हैं लेकिन वह इस मामले में शासन के निर्देशों का अक्षरता पालन कर रहे हैं, और जनप्रतिनिधियों अनुपम दुबे और उनके भाइयों को सच्चरित्र,समाज मे अच्छी ख्याति है और इलाके में नामचीन है , और रसूखदार होने का प्रमाण पत्र दे चुके हैं

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates