Homeअपराधफांसी के फंदे पर लटका मिला भाजपा जिला पंचायत सदस्य का शव,रिटायर्ड...

फांसी के फंदे पर लटका मिला भाजपा जिला पंचायत सदस्य का शव,रिटायर्ड डीआइजी की थी बहू

बांदा। शहर कोतवाली क्षेत्र के इंदिरा नगर मोहल्ले में बुधवार पूर्वाह्न उस समय अफरा तफरी मच गई जब भाजपा जिला पंचायत सदस्य एवं रिटायर्ड डीआइजी की बहू का शव घर के अंदर फांसी के फंदे पर लटका मिला। जानकारी होते ही घर के बाहर लोगों की भीड़ लग गई और पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस ने शव कब्जे में लिया है, वहीं घरवाले अभी घटना को लेकर कुछ बोलने को तैयार नहीं है। पुलिस ने मामले की पड़ताल के साथ लोगों से पूछताछ शुरू कर दी है। प्राथमिक छानबीन में पति से कहासुनी होने से क्षुब्ध होकर खुदकुशी करने की बात कही जा रही है, वहीं शराब कारोबारी पति घटना के बाद से लापता हैं।

यह भी पढ़ें : फिर सुर्ख़ियों में आयी कांग्रेस नेत्री अलका लांबा, जानिये वजह

बांदा शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला इंदिरा नगर में रिटायर्ड डीआइजी राजबहादुर सिंह गौर का मकान है। यहां पर उनके परिवार में बेटा दीपक सिंह गौर और 38 वर्षीय बहू जसपुरा से भाजपा जिला पंचायत सदस्य श्वेता सिंह समेत अन्य सदस्य निवास करते हैं। श्वेता के पास भाजपा महिला मोर्चा की जिला महामंत्री पद की भी जिम्मेदारी थी, वह जिला उपाध्यक्ष भी रह चुकी थीं। वहीं पति दीपक सिंह शराब कारोबारी हैं और भाजपा किसान मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष भी है। बुधवार को पूर्वाह्न घर के अंदर कमरे में श्वेता का शव रस्सी के फंदे से लटका मिलने से सनसनी फैल गई।

जानकारी हाेते ही घर के बाहर लोगों की भीड़ एकत्र हो गई और सूचना पर पुलिस भी पहुंच गई। वारदात की जानकारी मिलते ही एसपी अभिनंदन भी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है, फिलहाल घरवाले कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। पुलिस ने अन्य लोगों से पूछताछ शुरू की है। प्रथम दृष्टया मामला पति-पत्नी के बीच आपसी कहासुनी का बताया जा रहा है। सीओ सिटी राकेश कुमार सिंह का कहना है कि जांच के बाद ही मामले में कुछ कहा जा सकता है। अभी घरवालों से पूछताछ की जा रही है और मायके पक्ष को सूचना दी गई है।

एक दिन पहले किया फेसबुक पर पोस्ट : पुलिस ने उनका मोबाइल कब्जे में लिया है। शराब कारोबारी पति घटना के बाद से कहीं लापता है। रिश्तेदारों ने पति-पत्नी के बीच में आपसी किसी बात को लेकर कहासुनी होने की बात कही है। श्वेता के चार बेटियां हैं। घटना से एक दिन पहले मंगलवार शाम श्वेता ने फेसबुक पर मैसेज पोस्ट किया था, जिसमें लिखा था- घायल नागिन, घायल शेरनी और अपमानित स्त्री से हमेशा डरना चाहिए। फेसबुक पर पोस्ट इस मैसेज के मतबल को लेकर भी पुलिस जांच कर रही है।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates