More
    Homeपंजाबअपनी पार्टी का बीजेपी से विलय कर सकते हैं कप्तान अमरिंदर सिंह

    अपनी पार्टी का बीजेपी से विलय कर सकते हैं कप्तान अमरिंदर सिंह

    चंडीगढ़। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह अपनी पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस (पीएलसी) का भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में विलय कर सकते हैं. भाजपा नेता हरजीत सिंह ग्रेवाल ने शनिवार को यह दावा किया. उन्होंने कहा कि अमरिंदर सिंह लंदन से लौटने के बाद ये कदम उठा सकते हैं. हालांकि बीजेपी ने अभी आधिकारिक तौर पर अमरिंदर सिंह की पार्टी के विलय पर कुछ नहीं कहा है.

    बीजेपी नेता हरजीत सिंह ग्रेवाल ने कहा कि 80 वर्षीय अमरिंदर सिंह इन दिनों रीढ़ की हड्डी के ऑपरेशन के बाद लंदन में स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं. लंदन जाने से पहले अमरिंदर ने भाजपा के साथ अपनी पार्टी के विलय का इरादा जाहिर किया था. बीजेपी ने इस बारे में कुछ नहीं कहा है. हालांकि शनिवार को भाजपा की पंजाब इकाई के वरिष्ठ नेता ग्रेवाल ने दावा किया कि इस संबंध में फैसला कर लिया गया है. उन्होंने कहा कि अमरिंदर लंदन से लौटने के बाद भाजपा में पीएलसी के विलय की घोषणा करेंगे।

    यह भी पढ़ें : जेलेंस्की ने अर्जेंटीना और चिली के राष्ट्रपतियों से की बातचीत

    दो बार पंजाब के मुख्यमंत्री रहे अमरिंदर सिंह ने पिछले साल मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद कांग्रेस छोड़ दी थी और पीएलसी का गठन किया था. पीएलसी ने साल 2022 का पंजाब विधानसभा चुनाव भाजपा और सुखदेव सिंह ढींडसा के नेतृत्व वाले शिरोमणि अकाली दल (संयुक्त) के साथ गठबंधन में लड़ा था, लेकिन पीएलसी का कोई भी उम्मीदवार जीत दर्ज नहीं कर सका. अमरिंदर खुद पटियाला शहरी सीट से चुनाव हार गए थे।

    पटियाला राजघराने से संबंध रखने वाले अमरिंदर सिंह 2002 से 2007 तक पंजाब के सीएम रहे थे. 2017 में भी उन्होंने कांग्रेस को राज्य में सत्ता दिलाई थी. लेकिन नवजोत सिंह सिद्धू को लेकर खटपट के बाद असहज होने पर उन्होंने मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़ दी थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमरिंदर सिंह लंदन से अगले हफ्ते लौट सकते हैं. इधर बीजेपी भी 2024 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए खुद को मजबूत करने में जुटी है।

    Must Read