More
    Homeउत्तर प्रदेशदलित के घर भोजन करने गए सीएम योगी, बाहर रेप पीड़िता के...

    दलित के घर भोजन करने गए सीएम योगी, बाहर रेप पीड़िता के माँ बाप लगाते रहे मिलने की गुहार

    अयोध्या के दौरे पर पहुंचे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विकास कार्यों की समीक्षा की और इसके बाद दलित बस्ती में एक दलित परिवार के यहां दोपहर का भोजन किया। हालांकि, इस दौरान दलित परिवार के घर के बाहर एक रेप पीड़िता के माता-पिता सीएम योगी से मुलाकात की उम्मीद लेकर आए थे। वे पुलिस अधिकारियों से बार-बार गुहार लगाते रहे कि उन्हें सीएम योगी से मिलने दिया जाए, लेकिन पुलिसकर्मियों ने 5 साल की बच्ची के माता-पिता की फरियाद नहीं सुनी।

    यह भी पढ़ें : यौन शोषण करने वाले शिक्षक को 14 साल की कारावास और 15 हजार रुपये जुर्माना

    सीएम योगी आदित्यनाथ मनीराम के घर भोजन करने के बाद बाहर आए और उन्होंने लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। इसके बाद सीएम योगी का काफिला वहां से रवाना हो गया। उस वक्त भी रेप पीड़िता के माता-पिता सीएम के काफिले के पीछे भागने की कोशिश कर रहे थे। वे चाहते थे कि सीएम उनकी फरियाद सुनें।

    दरअसल, कुछ दिनों पहले दरिंदों ने एक बच्ची को अपनी हवस का शिकार बनाया था और उसे जान से मारने की कोशिश की थी। लंबे समय तक उस बच्ची का इलाज लखनऊ के मेडिकल कॉलेज में चला, जिसके बाद वह अपने घर लौट आई है। हालांकि, वह बच्ची अभी भी चल नहीं पा रही है। बच्ची की हालत देख परिवार वाले टूट चुके हैं।

    इस मामले में पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर एक आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। लेकिन घरवाले कह रहे हैं कि इस घटना में दो अन्य आरोपी भी शामिल थे। बच्ची ने भी तीन आरोपियों के बारे में बताया था। बच्ची के परिवार वाले मांग करते रहे हैं कि दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए। वे इसको लेकर बार-बार थाने के चक्कर लगा रहे हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

    इस बीच, परिवार को खबर मिली की सीएम योगी आदित्यनाथ अयोध्या के दौरे पर आ रहे हैं, जिसके बाद उन्होंने मुख्यमंत्री से मिलकर पूरे मामले से उन्हें अवगत कराने की कोशिश की। बच्ची के माता-पिता मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों से बार-बार गुहार लगाते रहे कि उन्हें सीएम योगी से एक बार मिलने दिया जाए। उन्होंने हाथ-पैर जोड़कर पुलिस अधिकारियों के सामने गुहार लगाई लेकिन उनकी एक न सुनी गई। पुलिसकर्मी रेप पीड़िता के परिवार को आश्वासन देते रहे लेकिन उन्होंने सीएम योगी से मिलने की इजाजत नहीं दी।

    Must Read