Homeविदेशचीन में कोरोना का तांडव, शंघाई में सबसे ज्यादा मरीज़

चीन में कोरोना का तांडव, शंघाई में सबसे ज्यादा मरीज़

बीजिंग: चीन में कोरोना वायरस के मामले एक बार फिर तेजी से रफ्तार पकड़ रहे हैं। शनिवार को शंघाई में कोविड-19 (Covid-19) के मामलों में रिकॉर्ड वृद्धि देखने को मिली, जिसके बाद चीन के कई इलाकों में प्रतिबंध लगाए गए हैं। कोरोना का ओमिक्रॉन वेरिएंट चीन में तबाही मचा रहा है। वहीं प्रतिबंधों के कारण दुनिया भर की सप्लाई चेन पर असर पड़ा है।

यह भी पढ़ें : वोटिंग की रात जनरल बाजवा ने जड़ा था इमरान के थप्पड़, जाने वजह

झेंग्झौ हवाई अड्डा आर्थिक क्षेत्र (Zhengzhou Airport Economic Zone) ने कोरोना की स्थिति को देखते हुए 14 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की है। यह आर्थिक क्षेत्र चीन का महत्वपूर्ण मैन्युफैक्चरिंग हब है। यहीं पर एप्पल मोबाइल की सप्लायर फॉक्सकॉन की फैक्ट्री भी है। कई शहरों ने अपने नागरिकों को निर्देश दिया है कि बिना जरूरत के वे घरों से बाहर न जाएं।

कंपनियों को वर्क फ्रॉम होम का निर्देश
चीन के उत्तरी पश्चिमी शहर जियान (Xian) में इस महीने से लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामलों को देखते हुए शुक्रवार को स्थानीय प्रशासन ने कहा है कि लोग बेवजह अपने घरों से निकलने से बचें। हालांकि जियान के लोगों ने जब अधिकारियों से भोजन की कमी को लेकर पूछा तो उनकी ओर से कहा कि यह कोई लॉकडाउन नहीं है न ही लॉकडाउन लगाने की कोई मंशा है। इसके अलावा कंपनियों को कहा गया है या तो वे अपने कर्मचारियों के लिए वर्क फ्रॉम होम की व्यवस्था दें या फिर वह कार्यस्थल पर ही उनके रहने की व्यवस्था करें।

वहीं, दूसरी तरफ शंघाई में लगातार कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। शंघाई चीन में सबसे ज्यादा कोरोना केस वाला शहर है। शनिवार को जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक 15 अप्रैल को 3,590 नए सिंप्टोमेटिक मामले आए हैं। वहीं, 19,923 मामले बिना लक्षणों वाले हैं। कोरोना के चलते शंघाई के 2.5 करोड़ लोगों में से ज्यादातर लॉकडाउन में हैं। कड़े प्रतिबंधों का दुनिया भर की सप्लाई चेन पर भी प्रभाव पड़ा है, जिसके कारण एप्पल समेत कई कंपनियों के शिपमेंट देरी से चल रहे हैं। अर्थशास्त्रियों का कहना है कि कोरोना इस साल चीन की अर्थव्यवस्था पर भी प्रभाव डालेगा।

सेंट्रल बैंक ने महंगाई रोकने के लिए उठाए कदम
महंगाई को रोकने के लिए चीन के केंद्रीय बैंक ने शुक्रवार की शाम अपना रिजर्व बढ़ाते हुए नकदी की मात्रा में कटौती की है। शुक्रवार को चीनी इलेक्ट्रिक कार के प्रमुख पेंग ने कहा कि शंघाई और आसपास के इलाकों में अगर सप्लायर काम नहीं शुरू करते हैं तो अगले महीने उत्पादन को बंद करना पड़ेगा। शंघाई के नजदीक के शहर सूज़ौ (Suzhou) के प्रशासन की ओर से कहा गया है कि जो भी लोग वर्क फ्रॉम होम करने में सक्षम हों वह दफ्तर जाने से बचें। इस शहर में 500 नए कोरोना के मामले पाए गए हैं। पूरे चीन में 15 अप्रैल को 24,791 नए केस मिले।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates