Homeदिल्लीदिल्ली में लगातार बढ़ रही है कोरोना की रफ़्तार

दिल्ली में लगातार बढ़ रही है कोरोना की रफ़्तार

राजधानी दिल्ली में एक बार फिर कोरोना वायरस (COVID-19) के मामलों में तेजी और पॉजिटिविटी रेट दो प्रतिशत से अधिक होने के बीच पिछले एक सप्ताह में होम आइसोलेशन (Home Isolation) में रहने वाले मरीजों की संख्या में लगभग 48 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

आधिकारिक आंकड़ों से मिली जानकारी के मुताबिक, गुरुवार को होम आइसोलेशन के मामलों की संख्या 574 थी, जबकि 2.39 प्रतिशत के पॉजिटिविटी रेट के साथ कोरोना के 325 नए मामले दर्ज किए गए थे।

पिछले कुछ दिनों में दैनिक मामले बढ़ रहे हैं, जबकि यहां संक्रमण दर चार अप्रैल से एक प्रतिशत से अधिक दर्ज की गई है। चार अप्रैल को यह 1.34 प्रतिशत थी।

पीओके के कथित पीएम अब्‍दुल कय्यूम नियाजी ने दिया इस्‍तीफा

कोरोना के मामलों में आया उछाल, दिल्ली सरकार स्कूलों के लिए जारी करेगी गाइडलाइंस
राजधानी में कोविड संक्रमण दर क्योंकि एक अप्रैल के 0.57 प्रतिशत से बढ़कर 14 अप्रैल को 2.39 प्रतिशत हो गई है, इसलिए पिछले एक सप्ताह में होम आइसोलेशन कर रहे मरीजों की संख्या में वृद्धि हुई है।

दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों द्वारा साझा किए गए आंकड़ों के अनुसार, आठ अप्रैल को, दिल्ली में 1.39 प्रतिशत की संक्रमण दर के साथ 146 नए मामले सामने आए थे और 388 मरीज होम आइसोलेशन में थे। इस अवधि में होम आइसोलेशन करने वालों की संख्या में लगातार वृद्धि हुई है, जो 14 अप्रैल को बढ़कर 574 हो गई। 11 अप्रैल को यह आंकड़ा 447 था और 13 अप्रैल को यह 504 था। बीते एक सप्ताह में होम आइसोलेशन के मामले में लगभग 48 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

डॉक्टरों ने मंगलवार को कहा था कि यह चिंताजनक स्थिति नहीं है क्योंकि दैनिक मामलों की संख्या अब भी कम है, लेकिन लोगों को सतर्कता बरतना नहीं छोड़ने के प्रति आगाह किया था।

कई डॉक्टरों ने यह भी कहा था कि लक्षणों की शुरुआत के बाद बहुत कम लोग कोविड टेस्ट के लिए जा रहे हैं और लोग अब घर पर ही ठीक होना पसंद कर रहे हैं, लेकिन संक्रमण दर में वृद्धि के साथ होम आइसोलेशन के मामलों की संख्या में भी समानांतर वृद्धि हुई है।

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, गुरुवार को दिल्ली के कोविड-19 संक्रमितों की कुल संख्या और बीमारी के कारण मरने वालों की संख्या क्रमशः 18,67,206 और 26,158 थी।

राजधानी में संक्रमण दर सोमवार को 2.7 प्रतिशत थी, जो दो महीने में सबसे अधिक थी। पांच फरवरी को यह आंकड़ा 2.87 प्रतिशत था।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates