More
    Homeपॉलिटिक्सचुनावी दांव : हिमाचल वालो को अब मिलेगी 125 यूनिट बिजली फ्री

    चुनावी दांव : हिमाचल वालो को अब मिलेगी 125 यूनिट बिजली फ्री

    शिमला: हिमाचल प्रदेश दिवस के मौके पर सीएम जयराम ठाकुर ने प्रदेश की जनता के लिए कई बड़े ऐलान किए। सीएम जयराम ठाकुर ने हिमाचल दिवस पर 125 यूनिट फ्री बिजली देने का ऐलान किया। इसके अलावा महिलाओं को बस किराये में भी 50 फीसदी छूट दी जाएगी। जयराम ठाकुर के ऐलान के बाद दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और AAP नेता मनीष सिसौदिया ने पलटवार किया। उन्होंने कहा कि केजरीवाल मॉडल कॉपी करने की कोशिश जा रही है।

    सीएम जयराम ठाकुर हिमाचल प्रदेश के 75वें हिमाचल दिवस पर चंबा में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे थे। इस दौरान जयराम ठाकुर ने कहा कि उपभोक्ता को 125 यूनिट मुफ्त बिजली देने से प्रदेशवासियों को 250 करोड़ रुपये का लाभ मिलेगा। उन्होंने ग्रामीण इलाकों में लोगों के पानी के बिल माफ करने का भी ऐलान किया। यानी अब गुजरात में किसी भी ग्रामीण को पानी का बिल नहीं भरना होगा।

    यह भी पढ़ें :गोरखनाथ मंदिर हमले के आरोपी ने डॉक्टर और इंस्पेक्टर पर किया हमला

    ‘बीजेपी के मन में हार का खौफ है’
    इस पर मनीष सिसौदिया ने ट्वीट किया, ‘बीजेपी के मन में AAP से हार का जबरदस्त खौफ है! हिमाचल के CM ने घोषणा की है। बिजली फ्री करेंगे। गांव में पानी फ्री करेंगे। महिलाओं का बस किराया आधा करेंगे। हर जगह फ्री का मजाक उड़ाने वाले, हिमाचल में चुनाव आया तो केजरीवाल मॉडल की कॉपी करने की कोशिश कर रहे हैं।’

    साल के अंत तक हिमाचल प्रदेश में होने हैं चुनाव
    हिमाचल प्रदेश में इस साल के अंत तक विधानसभा चुनाव होने हैं। आम आदमी पार्टी की पंजाब में सरकार बनने के बाद उसने हिमाचल प्रदेश में भी गतिविधियां तेज कर दी है। बीजेपी को अंदेशा है कि पंजाब और दिल्ली की तरह AAP हिमाचल में भी मुफ्त योजनाओं का वादा कर सकती है। ऐसे में सीएम जयराम ठाकुर ने पहले ही बिजली और पानी को लेकर बड़े ऐलान कर दिए।

    पीएम मोदी ने हिमाचल दिवस पर बधाई
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी हिमाचल प्रदेश दिवस पर बधाई दी। पीएम मोदी ने कहा, ‘बहुत सुखद संयोग है कि देश की आजादी के 75वें वर्ष में हिमाचल प्रदेश भी अपना 75वां स्थापना दिवस मना रहा है। आजादी के अमृत महोत्सव में हिमाचल प्रदेश में विकास का अमृत हर प्रदेशवासी तक निरंतर पहुंचता रहे इसके लिए हम सभी का प्रयास जारी है।’

    पीएम मोदी ने कहा, ‘1948 में जब हिमाचल प्रदेश का गठन हुआ था तब पहाड़ जितनी चुनौतियां सामने थीं। छोटा पहाड़ी प्रदेश होने के कारण मुश्किल परिस्थितियों, चुनौतीपूर्ण भूगोल के चलते संभावनाओं के बजाय आशंकाएं अधिक थीं। लेकिन हिमाचल के मेहनतकश, ईमानदार, कर्मठ लोगों ने इस चुनौती को अवसरों में बदल दिया।’

    Must Read