More
    Homeअपराधएसओजी टीम की नेपाल के दो बदमाशों से मुठभेड़, एक गिरफ्तार दूसरा...

    एसओजी टीम की नेपाल के दो बदमाशों से मुठभेड़, एक गिरफ्तार दूसरा फरार

    सहारनपुर, जिला पुलिस लगातार बदमाशों पर शिकंजा कस रही है। गुरुवार की ही बात करें तो अलग अलग तीन मुठभेड़ में तीन बदमाशों को गोली लगी है। गुरुवार की ही देर रात बिहारीगढ़ थाना पुलिस और एसओजी टीम के साथ नेपाल के दो बदमाशों से मुठभेड़ हो गई। एक बदमाश गोली लगने से घायल हो गया, जबकि दूसरी बदमाश पुलिस को चकमा देकर फरार होने में कामयाब हो गया। इस मुठभेड़ में एक सिपाही के भी पैर में गोली लगी है। दोनों घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। नेपाली चोर से व्यापारी केएल अरोड़ा के घर हुई चोरी का सामान मिला है।
    कायनात अरोड़ा के चाचा के घर चोरी

    एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि गुरुवार की रात सूचना मिली कि शहर कोतवाली क्षेत्र के लिंक रोड पर रहने वाले व्यापारी एवं फिल्म हीरोइन कायनात अरोड़ा के चाचा केएल अरोड़ा के घर चोरी करने वाले नेपाली चोर सुंदरपुर शाकंभरी मार्ग से गुजरने वाले हैं। जिसके बाद एसएसपी ने बिहारीगढ़ थाना प्रभारी मनोज चौधरी और एसओजी प्रभारी जयवीर को उनकी टीमों के साथ शाकंभरी मार्ग पर लगा दिया। दोनों टीम वाहनों की चेकिंग करने लगी। तभी एक बाइक पर दो युवक आए और उन्होंने पुलिस को चेकिंग करते हुए देख बाइक को दौड़ा लिया। कुछ दूर जाने पर बाइक सवार बदमाशों ने पुलिस पर गोली चला दी। जिसके बाद पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए गोली चला दी।

    इसे भी पढ़े :ब्रिटिश पीएम बोरिस जानसन और पीएम मोदी ने की रक्षा समेत कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा

    दूसर बदमाश की तलाश जारी

    एक गोली सिपाही पकंज के पैर में लगी, जबकि एक गोली एक बदमाश के पैर में लगी। बदमाश की पहचान परमानंद उर्फ पवन पुत्र तुलाराम निवासी जनपद डोटी नेपाल के रूप में हुई। वहीं दूसरे बदमाश की तलाश में कांबिंग की गई, लेकिन वह भागने में सफल रहा। पूछताछ के दौरान परमानंद ने बताया कि उसने ही अपने एक साथी के साथ मिलकर केएल अरोड़ा के घर चोरी की थी। आरोपित को शुक्रवार को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेजा जाएगा। आरोपित के पास से चोरी किए गए 52 हजार रुपये और अन्य सामान भी मिला है।

    यह था पूरा मामला

    करीब पांच माह पूर्व हीरोइन कायनात अरोड़ा के चाचा केएल अरोड़ा ने अपने घर पर एक नेपाली परमानंद नौकर को रखा था। जब यह परिवार एक शादी समारोह में गया था तो उसी समय नेपाली नौकर घर का सभी सामान लेकर फरार हो गया था। पुलिस परमानंद के चक्कर में नेपाल भी गई थी, लेकिन आरोपित को नहीं ला सकी थी। अब फिर से परमानंद भारत आया था और किसी बड़ी चोरी की फिराक में था।

     

    Must Read