Homeअजब गजबरोज निकलता है इस नदी से सोना

रोज निकलता है इस नदी से सोना

आज हम आपको एक ऐसी नदी के बारे में बताएंगे जिसे सोने की नदी कहा जाता है. यहां पानी से सोना निकलता है.झारखंड की इस स्वर्णरेखा नदी में पानी के साथ सोना बहने के कारण ही इसे स्वर्णरेखा नदी के नाम से जाना जाता है. इसको आम लोग यहां सोने की नदी भी कहते हैं. स्वर्णरेखा नदी रांची से 16 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम में स्थित नगड़ी गांव में रानी चुआं नाम की जगह से निकलती है. झारखंड में बहते हुए यह ओड‍िशा, पश्चिम बंगाल से होते हुए बालेश्वर नाम की जगह पर बंगाल की खाड़ी में गिरती है. इस नदी की लंबाई 474 किलोमीटर है.

ये भी पढ़िए –जनसंख्या वृद्धि दर आंकड़ों को लेकर भाजपा पे निशाना

आमतौर पर दिनभर काम करने के बाद एक व्यक्ति एक या दो सोने के कण ही निकाल पाता है. महीनेभर में एक व्यक्ति 70 या 80 सोने के कण निकाल पाता है. आदिवासी सोने के एक कण को बेचकर 100 रुपये कमा लेते हैं. लेकिन बाजार में इसकी कीमत 300 रुपये से ज्यादा होती है.वैज्ञानिकों का कहना है कि ये नदी कई चट्टानों से होकर गुजरती है. इन चट्टानों में मिलने वाले सोने के टुकड़े घर्षण के कारण टूटकर नदी में मिल जाते हैं और बहकर आ जाते हैं. वहीं, कुछ लोगों का कहना है कि स्वर्णरेखा नदी में जो सोने के कण मिलते हैं, वो करकरी नदी से बहकर आते हैं.

ये भी पढ़िए –आरजेडी पूर्व एमएलसी के बेटे ने की पुलिस से गुंडागर्दी

 

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates