Homeउत्तर प्रदेशवर्ष का पहला सूर्यग्रहण 30 को, भारत में आंशिक प्रभाव

वर्ष का पहला सूर्यग्रहण 30 को, भारत में आंशिक प्रभाव

त्योहारों का सीजन लेकर आए अप्रैल में वर्ष का पहला सूर्य ग्रहण भी लगने जा रहा है। हालांकि, देश में इस सूर्य ग्रहण का आंशिक असर ही रहेगा, लिहाजा लोगों को सूतक नियमों की पालना करने को भी जरूरी नहीं बताया जा रहा है। ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक जिस ग्रहण का असर आंशिक हो, वहां पर इसकी पालना करने के लिए सूतक नियम को प्रभावी करना आवश्यक नहीं होता।

यह भी पढ़ें : सिरफिरे आशिक से युवती परेशान , शादी न करने पर मारने की दे रहा धमकी

दरअसल, अप्रैल में चैत्र माह के पवित्र नवरात्र, ईस्टर का त्योहार, श्री राम नवमी तथा गुरु घरों में बैसाखी पर व्यापक स्तर पर समागम होने जा रहे हैं। इसके चलते अप्रैल को सभी धर्मों के लिए पवित्र व उत्साह वाला महीना माना जाता है। इस बीच इसी माह में सूर्य ग्रहण भी लगने जा रहा है। महीने के अंत यानी 30 अप्रैल को लगने जा रहे सूर्य ग्रहण का भले ही देश में आंशिक असर ही पड़ेगा लेकिन, ग्रहण की अवधि के दौरान भगवान के सिमरन को जरूरी बताया जा रहा है।

करे ईश्वर का स्मरण
इस बारे में प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्य व श्री मेला राम मंदिर के प्रमुख पुजारी पंडित भोला नाथ त्रिवेदी बताते है कि सूर्य ग्रहण का असर भले ही देश में नहीं होने वाला है, लेकिन ब्रह्मांड में वायु परिवर्तन के चलते लोगों को इस अवधि के दौरान प्रभु का सिमरन करना चाहिए। इस दौरान किसी की निंदा करने से परहेज करना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस अवधि में दान स्नान का भी अहम स्थान है। जिसकी पालना चरनी चाहिए।

इन जगहों पर होगा असर
इस बारे में मौसम विशेषज्ञ डा. विनीत शर्मा बताते है कि सूर्य ग्रहण का दक्षिण व वेस्ट-साउथ अमेरिका, प्रशांत महासागर, अटलांटिक तथा अंटार्कटिका महासागर व आसपास के इलाकों में दिखाई देगा। लिहाजा देश में इसका आंशिक असर ही होगा।

यह रहेगा ग्रहण का समय
दोपहर 12.15 बजे से शुरू होकर 4.07 बजे तक।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates