HomeअपराधBJP नेता अर्जुन चौरसिया की हत्या मामले में गृह मंत्रालय ने बंगाल...

BJP नेता अर्जुन चौरसिया की हत्या मामले में गृह मंत्रालय ने बंगाल सरकार से मांगी रिपोर्ट

कोलकाता। बंगाल में पिछले साल विधानसभा चुनाव के बाद बाद दो दिवसीय दौरे पर आए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह दूसरे दिन शुक्रवार दोपहर को कोलकाता के काशीपुर इलाके में मृत भाजपा कार्यकर्ता अर्जुन चौरसिया (27) के घर पहुंचे। अर्जुन चौरसिया का शव सुबह संदिग्ध हालत में फंदे से लटकता मिला था। शाह ने यहां मृतक के परिवार के लोगों से मुलाकात की और उन्हें ढांढस बंधाया। शाह ने मृतक के घर से कुछ दूरी पर स्थित उस स्थान का भी दौरा किया जिस सुनसान इमारत से भाजपा युवा मोर्चा के मंडल उपाध्यक्ष चौरसिया का शव बरामद किया।

परिजनों से मुलाकात के बाद अमित शाह ने यहां पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि आज भाजपा के कार्यकर्ता अर्जुन चौरसिया की राजनीतिक बदले की भावना से हत्या कर दी गई। उनके परिवार का कहना है कि उनका जघन्य रूप से कत्‍ल किया गया है। गृह मंत्री ने कहा कि कल ही तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के तीसरे कार्यकाल के एक साल पूरे हुए हैं। इसके दूसरे दिन ही राजनीतिक हिंसा का दौर शुरू हो गया है।

गृह मंत्री ने कहा कि पूरे बंगाल में राजनीतिक हिंसा, प्रतिशोध में हत्याएं और विरोधी राजनीतिक दल के कार्यकर्ताओं को चुन-चुन कर निशाना बनाने के अनेक उदाहरण हमारे पास आए हैं। भाजपा अर्जुन की हत्या की घोर निंदा करती है और हम अदालत से हत्यारे को कड़ी से कड़ी सजा मिले यह सुनिश्चत करेंगे। उन्होंने इस हत्याकांड की घोर निंदा करते हुए कहा कि राज्य सरकार को इस हत्याकांड की जांच सीबीआइ को सौंप देनी जानी चाहिए।

यह भी पढ़ें : सूर्य कर रहा राशि परिवर्तन, जाने किन राशि वालो का चमकेगा भाग्य

शाह ने यह भी कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय भी इस घटना का गंभीरता से संज्ञान में ले रहा है और आज ही गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल सरकार से रिपोर्ट तलब की है। उन्होंने आगे कहा कि मैं पीडि़त परिवार से मिला हूं। चौरसिया की दादी को भी नहीं बख्शा गया, उनको भी मारा गया। भाजपा के कार्यकर्ता अदालत के सामने गए हैं कि इसका वीडियोग्राफी के साथ पैनल पोस्टमार्टम हो और मामले की जांच सीबीआइ को सौंपा जाना चाहिए।

शाह ने कहा कि भाजपा सुनिश्चित करेगी कि दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले। बता दें कि शाह के दो दिवसीय बंगाल दौरे के बीच कोलकाता में भाजपा कार्यकर्ता का संदिग्ध अवस्था में शुक्रवार को शव मिला। इसके बाद सूबे की सियासत गरमा गई। कोलकाता के काशीपुर इलाके में पार्टी कार्यकर्ता अर्जुन चौरसिया का सुबह संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी के फंदे से लटका हुआ शव बरामद किया गया। चौरसिया का शव यहां काशीपुर के घोष बागान इलाके में एक सुनसान इमारत में लटका मिला।

वहीं, भाजपा ने इसे हत्या बताते हुए इसके लिए सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को जिम्मेदार ठहराया है। हालांकि तृणमूल ने आरोपों को खारिज किया है। इधर, इस घटना के बाद पार्टी ने कोलकाता में शाह के स्वागत समारोह के सभी कार्यक्रमों को भी रद कर दिया। प्रदेश भाजपा की ओर से एक बयान जारी कर यह जानकारी दी।

प्रदेश भाजपा प्रवक्ता शमिक भट्टाचार्य ने कहा कि वह एक कुशल पार्टी कार्यकर्ता थे। हमने आज सुबह उन्हें मृत हालात में पाया। इधर, भाजपा के आरोपों का खंडन करते हुए टीएमसी सांसद शांतनु सेन ने कहा, इस घटना के लिए पार्टी पर लगाए गए आरोप निराधार हैं। पुलिस को मामले की जांच करने दें। पुलिस ने कहा कि घटना की जांच शुरू कर दी गई है।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates