Homeझारखंडहजारीबाग जिले के शराब दुकानों में नियुक्ति के लिए ली जा रही...

हजारीबाग जिले के शराब दुकानों में नियुक्ति के लिए ली जा रही मोटी रकम

हजारीबाग, सरकार के अधीन दो मई से संचालित हजारीबाग जिले के 79 शराब दुकानों में 158 सहायक और 79 सुपरवाइजर की नियुक्ति होनी है। नियुक्ति स्थानीय युवकों की होगी और इसके लिए उपायुक्त द्वारा गठित जिला समिति ने बकायदा नियोजनालय के माध्यम से आवेदन मंगाए गए। अभ्यर्थियों से शपथ पत्र लिया गया और उनकी सहायक उत्पाद कार्यालय में बकायदा समिति का गठन कर आवेदनों की स्क्रूटनी भी गई। पूरी प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने के लिए विभाग की ओर से नियोजनालय द्वारा भेजे गए 728 नाम के आलोक में 335 आवेदकों को सफल बता राज्य उत्पाद कार्यालय को सूची भी भेजी गयी। परंतु ये सारे जांच, आवेदन और स्क्रूटनी दिखावे के लिए थे।

इन शराब दुकानों में नियुक्ति उन्हीं का होना है, जिन्हें कंपनी चाहेगी और जो नियुक्ति के लिए पैसा देगा। जिसकी कवायद दो मई से सरकार द्वारा नियुक्त एजेंसी और उनके दलालों के माध्यम से की जा रही है। नियुक्ति के लिए बकायदा 40 हजार से लेकर 60 हजार रुपए तक मांगे जा रहे है। विभिन्न माध्यम और स्रोत से यह रुपये कंपनी के नाम पर सिक्युरिटी के लिए मांगे जा रहे है। पैसे मांगे जाने की बात दबे जुबान से कंपनी के स्थानीय प्रतिनिधियों ने भी स्वीकार किया है।

इसे भी पढ़े :अमेरिका के मैक्सिको जंगलो में लगी भीषण आग, राष्ट्रपति बाइडेन ने किया आपदा घोषित्त

कहीं भाग न जाए इसलिए देने होंगे सिक्युरिटी के नाम पर पैसे

शराब दुकानों में मैन पावर सप्लाई का जिम्मा पलामू की सुमित नामक कंपनी को मिली है। इनके जिम्मे हजारीबाग रेंज की दुकानें है। पैसे की बात पूछे जाने पर बताया गया कि शराब दुकान से पैसे लेकर कहीं ये लोग भाग न जाए इसलिए सिक्युरिटी के तौर पर पैसे लिए जा रहे है। हालांकि बाद में बयान को बदलते हुए बताया कि जो पैसे लिए जाएंगे वह कंपनी के नाम ड्राप्ट से लिए जाएंगे।

वेतन कितना मिलेगा इसका तो पता नहीं पर सिक्युरिटी कंपनी को चाहिए 3.16 करोड़

हजारीबाग जिले में 158 सहायक और 79 सुपरवाइजरों की नियुक्ति होनी है। इन्हें वेतन कितना दिया जाएंगा, यह कंपनी के लोगों के अलावा दुकानों में प्रतिनियुक्त किए जा रहे किसी भी स्टाप को पता नहीं है। चार मई को भी विभिन्न दुकानों में काम करने वाले कर्मचारियों से बात की गयी तो पैसे मांगे जाने की पुष्टि की गयी, परंतु वेतन की जानकारी नहीं दे पाए। बताया कि 15 मई तक समय दिया गया है। कंपनी के मांग के अनुसार इन्हें कुल प्रति कर्मचारी 40 हजार रुपए चाहिए। इसके हिसाब से 3 करोड़ 16 लाख रुपये हजारीबाग से उन्हें चाहिए।

नौकरी छोड़ने के साथ ही पैसे वापस कर दिया जाएगा: प्रभारी

हजारीबाग के सुमित मैन पावर कंपनी के जिला प्रभारी मनीष कुमार ने बताया कि कंपनी पैसे लेगी, सुरक्षा के लिए, यह बैंक ड्राफ्ट के माध्यम से लिया जाएंगा। जब चाहेंगे तब उन्हें उनके पैसे नौकरी छोड़ने के साथ ही वापस कर दिया जाएगा।

 

 

 

 

 

 

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates