Homeटेक्नोलॉजीअगर आप भी करते है UPI तो जान ले ये बातें

अगर आप भी करते है UPI तो जान ले ये बातें

UPI के माध्यम से पैसा भेजना सबसे आसान और तेज तरीका है. सिर्फ यही नहीं इन तरीकों के माध्यम से लोग पैसे ट्रांसफर या प्राप्त भी करते हैं. ऐसे में UPI और नेट बैंकिंग ने हमारी लाइफ काफी आसान कर दी है, जिससे समय की भी काफी बचत होती है. जबकि ऑनलाइन पेमेंट करते समय ठगे जाने का डर हमेशा बना रहता है. ऐसे में UPI या नेट बैंकिंग का इस्तेमाल करते समय खुद को सुरक्षित रखने के लिए 5 बातें बताई गई हैं, जिन्हें आप ध्यान में रखेंगे तो आप किसी तरह के साइबर ठगी का शिकार नहीं होंगे.

ये भी पढ़िए –KEAM 2022 रजिस्ट्रेशन पंजीकरण विंडो खुली

अपने मोबाइल को सुरक्षित रखें
आजकल लोग ज्यादातर डिजिटल बैंकिंग का काम मोबाइल से ही करते हैं. ऐसे में अपने मोबाइल को हमेशा लॉक रखें. खासकर यदि आप किसी नए स्थान पर हैं, जहां आप बहुत से लोगों को नहीं जानते हैं. क्योंकि मोबाइल में बैंकिंग और पेमेंट ऐप के अलावा कई ऐसे ऐप्स होते हैं जिसके माध्यम से साइबर स्कैमर्स आपके आवश्यक डेटा को चोरी कर सकते हैं. बता दें कि ईमेल या डिजिलॉकर ऐसे ऐप हैं जिनमें आपकी सभी महत्वपूर्ण जानकारियां होती हैं. यदि आप चाहते हैं कि आपकी पर्सनल जानकारियां लीक न हों इसीलिए, अपने फोन को हर समय लॉक कर के रखें.

वेबसाइट सिक्योरिटी पर भी रखें ध्यान
कई बार किसी नई या अनजानी वेबसाइट से खरीदारी करने से भी धोखाधड़ी हो सकती है. जैसे कि आप कभी- कभी कोई बेशकीमती आइटम खरीदने के लिए ऐसी नई वेबसाइट पर चले जाते हैं, जिसके बारे में आपने कभी सुना तक नहीं है. ऐसे में यहां पर आपके साथ ठगी भी हो सकती है. क्योंकि मार्केट में ऐसे कई नई- नई वेबसाइट हैं, जहां पर यूजर्स को ठगा जा रहा है. ऐसे में इस तरह के अननोन वेबसाइट पर पेमेंट करने के लिए पासवर्ड और बैंकिंग आईडी डालते ही आपकी बैंकिंग से जुड़ी सारी जानकारियां लीक हो जाएंगी और आप ठगी का शिकार हो जाएंगे.

UPI पिन/नेट बैंकिंग पासवर्ड किसी के साथ साझा न करें
साइबर ठगी से आपको बचना है तो अपने चार या छह अंकों का UPI पिन या अपना नेट बैंकिंग का पासवर्ड किसी के साथ शेयर न करें. नहीं तो पासवर्ड लीक होने पर कोई भी आपके अकाउंट से पैसा निकाल सकता है. साथ ही इस बात पर भी ध्यान देना होगा कि यदि कोई खुद को बैंक का कर्मचारी बताकर आपको फोन करे और आपसे ATM पिन, OTP और पासवर्ड सहित आपके बैंक अकाउंट के डिटेल्स मांगे तो कभी कोई जानकारी शेयर न करें. दरअसल, ये ऐसे कॉल बैंक कर्मचारी नहीं साइबर ठग करते हैं. ऐसे में आप जानकारी शेयर करते ही साइबर ठगी का शिकार बन सकते हैं.

किसी भी प्रकार के लिंक पर क्लिक न करें
आए दिन लोगों को मेल और वॉट्सऐप पर आकर्षक ऑफर मिलते हैं, खासकर त्योहारों के मौसम में. इस तरह के लिंक आपको ‘पुरस्कार’ या ‘कैशबैक’ प्राप्त करने के लिए अपना UPI पिन और अन्य बैंकिंग डिटेल्स शेयर करने के लिए कहते हैं. इसलिए ऐसे लिंक्स से सावधान रहना चाहिए और उन्हें नहीं खोलना चाहिए. ऐसे लिंक पर क्लिक करते ही आपके साथ फ्रॉड हो सकता है.

ये भी पढ़िए –निति आयोग ने निकाली वैकेन्सी

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates