Homeपॉलिटिक्सइमरान ने 30 मिनट में 7 बार लाया भारत का नाम, जानिये...

इमरान ने 30 मिनट में 7 बार लाया भारत का नाम, जानिये वजह

पाकिस्तान में इमरान खान के हाथों से सत्ता जा चुकी है। अविश्वास प्रस्ताव पर भले ही वोटिंग नहीं हुई, लेकिन इमरान को दोबारा चुनाव कराने के लिए विपक्ष ने मजबूर कर दिया। फिलहाल मामला सुप्रीम कोर्ट में है। फैसला जो भी आए, लेकिन ये तय है कि अब पाकिस्तान में जल्द ही चुनाव होंगे।

यह भी पढ़ें : संजीव जीवा गैंग का शातिर अपराधी शामली से गिरफ्तार

राजनीतिक संकट के बीच इमरान खान का एक नया इंटरव्यू सामने आया है। पाकिस्तान के एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में इमरान ने 30 मिनट के अंदर सात बार भारत का नाम लिया और हर बार तारीफ की। इमरान ने पाकिस्तान के तीन टुकड़े होने का डर भी जताया। आइए जानते हैं कि इमरान ने भारत को लेकर अपने इंटरव्यू में क्या-क्या कहा?

1. हिंदुस्तान हमसे आगे निकल गया : इमरान ने इंटरव्यू में अपने देश के हालात को बयां किया। पुराने प्रधानमंत्रियों की आलोचना की और फिर तरक्की के लिए भारत का उदाहरण पेश किया। बोले, ‘हिंदुस्तान हमारे साथ ही आजाद हुआ, लेकिन आज वो हमसे कहीं आगे निकल गया। हमारे यहां रिश्वतखोरी, करप्शन, नेताओं की चोरी ने पूरे देश को बर्बाद कर दिया।’

2. मुसलमानों ने हिंदुस्तान में हमारे लिए वोट किया : इमरान ने कहा, ‘मैं नजरिया पाकिस्तान के लिए राजनीति में आया था। लेकिन इन लोगों (विपक्ष) को पाकिस्तान की कोई फिक्र नहीं है। इलहमा इकबाल… जिनकी वजह से हिंदुस्तान में मुसलमानों ने अलग मुल्क पाकिस्तान के लिए वोट डाला। उनकी सोच जीनियस थी। उनका एक ख्वाब था। वह सोचते थे कि हम मुसलमानों का ऐसा मुल्क बनाएंगे जो पूरी दुनिया में नजीर बन जाएगा। खुद्दार मुल्क। जहां इंसाफ होगा। लोगों को उनका अधिकार मिलेगा। सुरक्षा मिलेगी। लेकिन इन डाकुओं ने हमें दुनिया में जलील कर दिया। आप देखिए… हमारे वीजा की क्या अहमियत है और पड़ोसी मुल्क हिंदुस्तान के वीजा को लेकर दुनिया क्या सोचती है?

3. भारतीय विदेश नीति की तारीफ : इमरान ने कहा, ‘हिंदुस्तान… हमारे साथ ही आजाद हुआ था। जरा उनकी फॉरेन पॉलिसी देख लें। जब सोवित यूनियन की कोल्ड वॉर चल रही थी, तब वो नॉन एलायंड थे। वह सोवियत यूनियन से भी बात कर रहे थे और अमेरिका से भी। हिंदुस्तान ने अमेरिका से खुलकर कहा था कि हमारी सोवियत यूनियन से भी रिश्ते हैं और आप से भी हमारे अच्छे रिश्ते हैं। हिंदुस्तान की फॉरेन पॉलिसी की वजह से ही आज देख लीजिए हिंदुस्तान की पासपोर्ट की क्या इज्जत है और पाकिस्तान के पासपोर्ट की क्या इज्जत रही है?

4. मुझे धमकी देते हैं, हिंदुस्तान को देने की हिम्मत नहीं : पाकिस्तान के कार्यवाहक पीएम ने कहा, ‘मुझे धमकी दी गई। उन्होंने (अमेरिका) कहा- अगर इमरान खान ये अविश्वास प्रस्ताव जीत जाता है तो मुल्क को बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ जाएगा। यूरोपियन यूनियन और बाकी देशों से आइसोलेट करने की भी धमकी भी दी गई। लेकिन अगर वो हार जाता है तब हम पाकिस्तान को माफ कर देंगे। क्या कोई हिंदुस्तान को ऐसी धमकी देने के बारे में सोच सकता है? नहीं… लेकिन हमारे लोगों (नेताओं) ने ही हमें इतना गिरा दिया है कि लोग हमें खुलकर धमकी दे रहे हैं।

पाकिस्तान के तीन टुकड़े होने का डर
इमरान को डर है कि पाकिस्तान के तीन टुकड़े हो सकते हैं। इसका जिक्र भी उन्होंने अपने इंटरव्यू में किया। कहा, ‘मैं एक आजाद फॉरेन पॉलिसी बना रहा हूं। इसके खिलाफ लोग साजिश कर रहे हैं। सारे मुसलमान देश देख लें। एक-एक मुल्क जिनके पास तगड़ी फौज थी उन्हें कमजोर किया गया। इराक, ईरान, सीरिया, लिबिया, सोमालिया.. जिनकी भी आजाद फॉरेन पॉलिसी थी। उन्हें बर्बाद कर दिया गया। अब यही हमारे साथ करने की कोशिश हो रही है। अगर हमारी मजबूत फौज न हो तो ये दुश्मन देश के तीन टुकड़े कर सकते हैं। इसलिए मैं कभी भी अपनी फौज के खिलाफ बात नहीं करुंगा। चाहे जो हो जाए।’

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates