Homeउत्तर प्रदेशकोरोना ने निपटने के लिए एक्शन में पीएम ,मुख्यमंत्रियों के साथ की...

कोरोना ने निपटने के लिए एक्शन में पीएम ,मुख्यमंत्रियों के साथ की बैठक

नई दिल्ली। देश में बीते कुछ दिनों से कोरोना के मामलों में लगातार इजाफा देखने को मिला है। कुछ राज्यों में तो कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं। कोरोना संक्रमण पर मोदी सरकार लगातार नजर बनाए हुए हैं। केंद्र सरकार इसको लेकर अलर्ट पर है। इसी सिलसिले में पीएम मोदी ने बुधवार को मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की।

इस बैठक के दौरान पीएम ने कहा कि बीते 2 वर्षों में कोरोना को लेकर ये हमारी 24वीं बैठक है, कोरोना काल में जिस तरह केंद्र और राज्यों ने मिलकर काम किया है और जिन्होंने कोरोना के खिलाफ देश की लड़ाई में अहम भूमिका निभाई है मैं सभी कोरोना वॉरियर्स की प्रशंसा करता हूं।

मोदी ने आगे कहा, ‘स्पष्ट है कि कोरोना की चुनौती अभी पूरी तरह टली नहीं है। ओमिक्रोन और उसके सब वैरिएंट्स किस तरह गम्भीर परिस्थिति पैदा कर सकते हैं, ये यूरोप के देशों में हम देख सकते हैं। पिछले कुछ महीने में इन वैरिएंट्स से मामले बढ़े हैं हम भारत में कई देशों की तुलना में हालात पर नियंत्रण रखा है।’

बीते 2 हफ्ते में मामले बढ़े, हमें अलर्ट रहना है
मोदी ने कहा कि पिछले 2 हफ्तों से मामले जो बढ़ रहे है उससे हमें अलर्ट रहना है। 2 साल के भीतर में देश ने हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर से लेकर ऑक्सीजन सप्लाई तक कोरोना से जुड़े हर पक्ष में जो आवश्यक है उसे देने का काम किया है। तीसरी लहर में स्थितियां अनियंत्रित होने की खबर नहीं आई।

उन्होंने कहा कि आज भारत के 96% वयस्क आबादी को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है और 15 साल के ऊपर बच्चों को करीब 85% लोगों को दूसरी डोज लग चुकी है। मार्च में हमने 12-14 वर्ष के बच्चों के लिए टीकाकरण शुरु कर दिया था। कल 6-12 वर्ष के बच्चों के लिए भी को-वैक्सीन टीके की अनुमति मिल गई है। इसके अलावा देश में सभी वयस्कों के लिए प्रीकाशन डोज भी उपलब्ध है। तीसरी लहर के दौरान हमने हर दिन 3 लाख से अधिक केस देखे। हमारे सभी राज्यों ने इन्हें हैंडल भी किया और बाकी सभी सामाजिक, आर्थिक गतिविधियों को भी गति दी।

यह भी पढ़ें : वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने निकाली विभिन्न पदों पर भर्तियां, इस तिथि तक कर ले आवेदन

हमारे वैज्ञानिक और विशेषज्ञ नेशनल और ग्लोबल स्थिति को लगातार मानिटर कर रहे हैं। संक्रमण को शुरुआत में ही रोकना हमारी प्राथमिकता पहले भी थी, आज भी यही रहना चाहिए। टेस्ट, ट्रैक, ट्रीट की हमारी स्ट्रैटेजी को भी हमें उतने ही प्रभावी तौर पर लागू करना है। इंफ्रास्ट्रक्चर के अपग्रेड का काम तेजी से चलता रहे, ये सुनिश्चित करना चाहिए। बिस्तर, वेंटिलेटर और पीएसए ऑक्सीजन प्लांट जैसी सुविधाओं के लिए हम काफी बेहतर स्थिति में हैं लेकिन ये सुविधाएं कार्यांवित रहे, हमें ये भी सुनिश्चित करना होगा।

कोरोना केस बढ़े, आज 2927 नए मामले
बता दें कि बीते 24 घंटे में भारत में कोरोना के मामलों में इजाफा हुआ है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि इस दौरान देश में कोरोना के 2927 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 32 लोगों की मौत भी हुई है। देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या अब 5,23,654 हो गई है।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates