Homeअजब गजबबिहार में बीडीओ को स्कूल निरीक्षण के दौरान सोते मिले शिक्षक, जगाने...

बिहार में बीडीओ को स्कूल निरीक्षण के दौरान सोते मिले शिक्षक, जगाने पर भी नहीं उठे

बैकुंठपुर (गोपालगंज)। प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न विद्यालयों का निरीक्षण करने शुक्रवार को प्रखंड विकास पदाधिकारी अशोक कुमार निकले थे। इस क्रम में उन्होंने दर्जनों विद्यालयों में जाकर उपस्थिति पंजी, नामांकन पंजी, स्कूल की साफ-सफाई, एमडीएम पंजी, नामांकन पंजी सहित विभिन्न तथ्यों की जांच की। इसी क्रम में वे दिघवां गांव स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय पहुंचे। वहां क्लासरूम में जाते ही शिक्षक कुर्सी पर सोया देख वे हैरान रह गए। उन्‍होंने शिक्षक को जगाने का प्रयास किया, परंतु शिक्षक गहरी नींद में थे। उसके बाद प्रखंड विकास पदाधिकारी ने खुद कक्षा की कमान संभाली। शिक्षक सोते रहे और बीडीओ साहब बच्‍चों को पढ़ाते रहे।

यह भी पढ़ें : नौकरी और पैसों से जुड़ी समस्याओं की वजह से बनी रहती है अशांति तो करें ये उपाय

40 मिनट तक सोए रहे मास्‍टर साहब
बीडीओ साहब गुरुजी की भूमिका में थे। उनके पढ़ाने के अंदाज से छात्र भी काफी खुश थे। समय बीत रहा रहा था। करीब 40 मिनट हो गए। आंखें मलते हुए शिक्षक महोदय उठे। सामने देखा कि उनकी जगह प्रखंड विकास पदाधिकारी क्‍लास ले रहे हैं। इसके बाद तो शिक्षक महोदय की नींद काफूर हो गई। वे बगले झांकने लगे। इसके बाद बीडीओ ने उनकी भी क्‍लास ली। उन्‍होंने कहा कि इस तरह की लापरवाही किसी हाल में बर्दाश्‍त नहीं की जाएगी। बताया गया कि कुर्सी पर सोने वाले गुरुजी सहायक शिक्षक खा‍लिद हुसैन हैं। बीडीओ ने कहा कि दायित्वों का निर्वहन करने में थोड़ी सी भी कोताही बर्दास्त नहीं की जाएगी। लापरवाही बरतने वाले शिक्षकों पर कड़ी कार्रवाई होनी तय है। इनकी वजह से बच्‍चों के भविष्‍य से खिलवाड़ नहीं किया जा सकता।

खुद में सुधार लाएं शिक्षक
इस संबंध में पूछे जाने पर प्रखंड विकास पदाधिकारी अशोक कुमार ने बताया कि उनकी मंशा यह नहीं कि शिक्षकों पर अनावश्यक कोई कार्रवाई हो बल्कि उनकी मंशा यह है कि शिक्षक अपनी कार्यशैली में सुधार लाएं। शिक्षक जब अपने आप में सुधार लाएंगे और पूरी निष्ठा के साथ कार्य करेंगे तो इससे समाज की तकदीर और तस्वीर दोनों बदलेगी।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates