Homeपॉलिटिक्सजानिये क्या हुआ जब विदेश मंत्री के पास आया मोदी का फ़ोन

जानिये क्या हुआ जब विदेश मंत्री के पास आया मोदी का फ़ोन

अपने मंत्रियों को भी बहुत व्यस्त रखते हैं. दिन हो या रात वह 24×7 काम करने वाले प्रधानमंत्री हैं. विदेश मंत्री एस. जयशंकर ‘मोदी @20 : ड्रीम्स मीट डीलिवरी’ किताब पर हो रही विशेष चर्चा में कोलंबिया यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और नीति आयोग के पूर्व वाइस चेयरमैन अरविंद पनगढ़िया से बातचीत कर रहे थे. इस अवसर पर उन्होंने काम के प्रति PM मोदी के समर्पण को एक उदारण से समझाया. यह उस समय की बात है जब अफगानिस्तान के मजार-ए-शरीफ में भारतीय दूतावास पर हमले की कोशिश हुई थी. विदेश मंत्री ने कहा, ‘जैसे ही नई दिल्ली तक सूचना पहुंची, हम सभी लोग हरकत में आ गए. हर तरफ से कोशिश की जा रही थी कि किस तरह मदद पहुंचाई जाए और वहां हमारे लोग सुरक्षित रहें. यह सब करते.करते आधी रात हो गई थी, 12ः30 बजे से अधिक का समय था.’

ये भी पढ़िए –अयोध्या में ड्रोन से दिखाई जायेगी रामायण की झलकियां

एस. जयशंकर ने आगे कहा तभी मेरे फोन की घंटी बजी. आमतौर पर जब प्रधानमंत्री का फोन आता है तो कोई कॉलर आईडी काम नहीं करता है. मैंने फोन उठाया तो दूसरी तरफ से सीधा सवाल आया, जगे हो…? मैंने कहा, हां सर. पीएम ने फिर पूछा, टीवी देख रहे हो? क्या चल रहा है वहां (मजार-ए-शरीफ)? इस पर मैंने कहा, सर हमला अब भी जारी है. मदद पहुंचाई जा रही है. उम्मीद है दो-तीन घंटे में स्थिति सामान्य हो जाएगी. पीएम ने कहा, जब हो जाए तो मुझे बता देना. मैंने कहा, जी सर, जब ऑपरेशन खत्म हो जाएगा तो मैं आपके वहां सूचना भिजवा दूंगा. कुछ पल शांति रही…फिर पीएम ने जोर देकर कहा- मुझे बता देना.’ इस तरह विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा कि यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक विलक्षण गुण है. वह काम करते समय घड़ी नहीं देखते. उनका पूरा समय देश और अपने लोगों के लिए समर्पित है.

ये भी पढ़िए –आगरा की डॉक्टर ने मासूम को बचाया

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates