Homeउत्तर प्रदेशफर्रूखाबाद : सर्वाधिक एनपीए वाली 12 शाखाओं में ऋण पर रोक

फर्रूखाबाद : सर्वाधिक एनपीए वाली 12 शाखाओं में ऋण पर रोक

फर्रुखाबाद।आर्यावर्त बैंक ने सर्वाधिक एनपीए वाली जिले की 12 शाखाओं में लोन पर रोक लगा दी है। इसके साथ ही तीन हजार डिफाल्टर ग्राहकों को नोटिस भेजे जा रहे हैं। आर्यावर्त बैंक के क्षेत्रीय प्रबंधक राजेश कुमार ने यह जानकारी  पत्रकारों को दी है।

यह भी पढ़ें : गंगा में स्वच्छता के साथ मत्स्य संपदा में भी होगी बढोतरी होगी:डॉ निषाद

उन्होंने बताया कि बैंक कर्मियो और ग्राहकों के बीच जो रिश्ते होने चाहिए उसमें किसी प्रकार की उदासीनता नहीं दिखनी चाहिए। क्योंकि ग्राहक बैंक की रीढ़ हैं। क्षेत्रीय प्रबंधक ने बताया कि बैंक ने ऋण ब्याज दरों में भारी कमीं की है। इससे गरीब तबके और ऋण लेने वाले लोगों को लाभ मिलेगा। एक मई 2022 से मकान बनवाने के लिए 6.5 प्रतिशत, वाहन ऋण के लिए 6.85 प्रतिशत और व्यक्तिगत प्रयोग के लिए अन्नपूर्णा ऋण 12.35 फीसदी दर पर दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि बैंक की जिले में 58 शाखाएं हैं। जिले में सर्वाधिक डिपाजिट आर्यावर्त बैंक के पास ही है। क्षेत्रीय प्रबंधक ने चिंता जताई कि केसीसी से ऋण लेकर कुछ लोग मकान तथा अन्य काम करते हैं। इससे यह धनराशि निश्चित उददेश्य में नहीं लग पाती है। सभी शाखा प्रबंधकों को निर्देश दिए गए है कि ऋण देते समय इस बात की पड़ताल जरूर करें कि वास्तविक आवश्यकता के आधार पर ही ऋण दिया जाए  उन्होंने बताया कि बैंक की ओर से 29932 खातों में 175.54 करोड़ की आरसी फाइल की गयी है।

श्री कुमार ने बताया कि गड़बड़ी करने वाले बैंक मित्रों के खिलाफ कार्रवाई सुनिश्चित होगी। पूर्व में इसको लेकर कार्रवाई भी की जा चुकी है।इस दौरान बैंक अधिकारी आदर्श कुमार, नवीन तनेजा, आकांक्षा आदि मौजूद रही।

बताते चलें कि जिले में आर्यावर्त ग्रामीण बैंक की सबसे अधिक शाखाएं हैं यह बैंक अब भी अपने मूल उद्देश्य सेवाभाव को लेकर कार्य कर रही है सबसे ज्यादा किसानों को फसली ऋण इसी बैंक के माध्यम से दिए जाते हैं इस बैंक के कर्मचारी अब भी किसानों के साथ मित्रवत व्यवहार करते हैं

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates