Homeलखनऊलखनऊ की मेयर संयुक्ता भाटिया बनी माँ, जाने पूरी खबर

लखनऊ की मेयर संयुक्ता भाटिया बनी माँ, जाने पूरी खबर

लखनऊ । शनिवार को मातृ दिवस की पूर्व संध्या पर फैज़ाबाद रोड स्थित सरस्वती डेण्टल कॉलेज के ऑडोटोरियम में वैदेही वेलफेयर फाउंडेशन द्वारा लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया को लखनऊ की माँ खिताब से नवाजा गया। इस दौरान महापौर संयुक्ता भाटिया ने 21 महिलाओं को लौह महिला सम्मान से सम्मानित किया।

यह भी पढ़ें : बच्चों में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए किया गया स्वर्णप्राशन

इस मौके पर वैदेही वेलफेयर फाउंडेशन द्वारा महापौर संयुक्ता भाटिया को कर्मठता, शहर के किये गए विकास कार्य और एक माँ की तरह शहर की चिंता करने पर ‘लखनऊ की माँ’ के खिताब से नवाजा गया।

इस मौके पर आयोजक रूबी राज सिन्हा ने कहा कि महापौर संयुक्ता भाटिया समाज के हर वर्ग हर व्यक्ति के साथ परिवार भाव के साथ उनके दुख सुख में खड़े रहती है। उनके घर के दरवाजे हमेशा लखनऊ के लोगों के लिए खुले रहते है। महापौर ने लखनऊ की एक माँ की तरह चिंता की है। सुबह 6 बजे से देर रात तक जनता के मध्य रहती है। जैसे एक माँ का स्वभाव बच्चे को वात्सल्य और कठोर दोनों होता है उसी प्रकार महापौर संयुक्ता भाटिया जी जब आवश्यकता पड़ी है तो जुर्माना भी लगाया है और लखनऊ की जनता के दुख में सबसे पहले पहुँची भी, चाहे वह रात 2 बजे जलभराव होने पर पम्पिंग स्टेशन जाना हो, कही आग लगने अथवा दुर्घटना होने पर सबसे पहले पहुंची है और हर संभव सहायता करने का प्रयास किया है। महापौर जी के कार्यकाल में सबसे ज्यादा विकास कार्य हुआ है। उन्होंने प्रत्येक माह हर जोन कार्यालय पर जाकर जनता की शिकायतो का निस्तारण करने का भरपूर प्रयास किया है। महापौर संयुक्ता भाटिया की सौम्यता, सरलता और जरूरत पड़ने पर कठोरता ही उन्हें ‘लखनऊ की माँ’ बनाती है।

इस मौके पर महापौर संयुक्ता भाटिया ने कहा कि लखनऊवासियों ने जो भरोसा और विश्वास मुझपर जताया था मैंने उसे शत प्रतिशत निभाने का प्रयास किया है।

मेरा मानना है कि जनप्रतिनिधि वही होता है जिससे जनता आसानी से मिलकर अपने दुख सुख कह सके। मैंने लखनऊ को अपना परिवार मान कर कार्य करने का प्रयास किया है। समर्पित भाव से घर की तरह लखनऊ की चिंता की है।

महापौर ने कहा कि मुझे प्रसन्नता होती है कि पक्ष, विपक्ष के पार्षद- कार्यकर्ता, सामाजिक संघटनो के लोग और लखनऊ की जनता मुझे माताजी कहकर बुलाती है तो मुझे बड़ी प्रसन्नता होती है और मैं भी सभी की बात माँ की तरह सुनती हूँ और उनकी समस्याओं का समाधान कराने का दिल से प्रयास करती हूँ।

महापौर ने बताया कि मैंने पिछले लगभग साढ़े चार सालों में लखनऊ को जिया है और लखनऊ के लिए जिया है। मैंने अपना पूरा समय लखनऊ को समर्पित किया है। लखनऊ से मुझे भरपूर प्यार मिला है और मैंने भी परिवार भाव से प्यार न्यौछावर किया है। मुझे एक बड़ा परिवार की मुखिया बनने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है।

इस कार्यक्रम मे जिन महिलाओं को सम्मानित किया गया उनमे लोहिया नगर से पार्षद मिथिलेश चौहान, गणेशगंज से पार्षद शशि गुप्ता, भारतेंदु हरिश्चंद्र वार्ड से पार्षद रुपाली गुप्ता, नामित पार्षद संतोष तेवतिया, महिला मोर्चा अध्यक्ष सीता नेगी, सरिता सिंह, सरोज, अनीता वर्मा, सिंधु टाइम्स से विशेष संवादाता नीलू वैश, नगर उपाध्यक्ष रोली सिन्हा, हेमलता त्रिपाठी, नीरजा श्रीवास्तव, शालिनी सिंह, दीप्ती जेटली, प्रभुजोत कौरअलका सहाय, बीना गुप्ता, दिव्या अरोड़ा, नीशू त्यागी, रागनी श्रीवास्तव, अर्चना सक्सेना, प्रतिभाe बाल्यान, मोनी मिश्रा, रीना,रेखा अरोड़ा, रीना चौरसिया, अर्चिता गुप्ता, प्रतिभा रावत, मंजू आनंद दिव्यांनंद सहित 21 महिलाओं को महापौर संयुक्ता भाटिया के हाथो लौह महिला सम्मान से सम्मानित किया गया l

इस मौके पर महापौर संयुक्ता भाटिया संग भाजपा महिला मोर्चा की कोषाध्यक्ष रेशु भाटिया, सरस्वती डेंटल कॉलेज की संस्थापिका मधु माथुर, अध्यक्ष रजत माथुर, स्मिता माथुर, प्राचार्य के०एन० पाण्डेय, पार्षद मिथलेश चौहान, रुपाली गुप्ता, संतोष तेवतिया, शशि गुप्ता, महिला मोर्चा की नगर अध्यक्ष सीता नेगी सहित बड़ी संख्या में अन्य महिलाएं मौजूद रहीं।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates