Homeउत्तर प्रदेशप्रयागराज महापौर ने दिए निर्देश अब बच्‍चों का जन्‍म प्रमाणपत्र बनवाने में...

प्रयागराज महापौर ने दिए निर्देश अब बच्‍चों का जन्‍म प्रमाणपत्र बनवाने में नहीं होनी चाहिए देरी

प्रयागराज, अभिभावकों के लिए अच्‍छी खबर है। उन्‍हें अब बच्‍चों का जन्‍म प्रमाणपत्र बनवाने में परेशानी नहीं होगी। यह बड़ा फैसला प्रयागराज की महापौर ने लिया है। महापौर अभिलाषा गुप्‍ता नंदी ने नगर निगम की बैठक में यह निर्देश दिया है। इस संबंध में अभिभावकों के हित में उन्‍होंने अधिकारियों से शीघ्रता से जन्‍म प्रमाणपत्र बनाने की प्रक्रिया पूरी करने को कहा है।

नगर निगम में बच्‍चों का जन्‍म प्रमाणपत्र बनवाने में एक माह लगता है

महापौर अभिलाषा गुप्‍ता नंदी ने कहा कि नगर निगम के जोनल कार्यालयों में नए जन्म प्रमाण पत्र बनने में एक से डेढ़ महीने लग रहे हैं। इससे अभिभावकों को परेशानी होती है। यह ठीक नहीं है। इसको नियंत्रित करने और बच्चों के अभिभावकों को राहत देने के लिए महापौर ने निर्देश दिए हैं।

इसे भी पढ़े :फांसी के फंदे पर लटका मिला भाजपा जिला पंचायत सदस्य का शव,रिटायर्ड डीआइजी की थी बहू

नगर निगम कार्यकारिणी की बैठक

प्रयागराज नगर निगम कार्यकारिणी की बैठक आज बुधवार को हो रही है। इसमें अभी तक कई फैसले लोगाें के हित में लिए गए हैं। बैठक अभी चल रही है। अभी और भी मसलों पर विमर्श होगा। साथ ही इन पर महापौर और नगर आयुक्‍त की मौजूदगी में निर्णय भी लिए जाएंगे।

ई-रिक्‍शा की गाइडलाइन तय की जाए

बैठक में ई-रिक्शा का मसला उठा। नगर में बेतहाशा चल रहे ई रिक्‍शा की कोई संख्या निर्धारित नहीं है। कहा गया है कि पुलिस के साथ में एक मीटिंग कर यह गाइडलाइन तय की जाए कि नगर में उपलब्ध जमीन के अनुसार कितने ई-रिक्शा चलने चाहिए, इसका क्या मानक होना चाहिए। इसके अलावा यह भी तय किया जाए इसके अलावा वृक्षों के लिए कहीं पार्किंग का प्रावधान भी होना चाहिए। ग्राम सभाओं की जमीन जो हाल ही में नगर निगम क्षेत्र में शामिल हुई है उन सभी जगह नगर निगम सीमा क्षेत्र का बोर्ड लगाने के लिए महापौर ने नगर आयुक्त को निर्देश दिए हैं।

नगर निगम कर्मी घूस मांगता है

नगर निगम में एक क्लर्क के बारे में नगर आयुक्त से सदन में शिकायत की गई। कहा गया कि यह क्लर्क लोगों से बिना पैसे लिए काम नहीं करता और सभी से कहता है कि यह पैसे ऊपर तक जाते हैं। कहा कि क्लर्क दो से ढाई लाख रुपये तक की मांग करता है। इस क्लर्क को हटाया जाए और कड़ी कार्रवाई की जाए। नगर निगम कार्यकारिणी की हो रही बैठक में महापौर अभिलाषा गुप्ता नंदी और कार्यकारिणी सदस्यों के साथ अन्‍य लोग मौजूद रहे।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates