Homeअपराधहिंदू नेताओं पर हमले के मामले में कांग्रेस नेता गुरसिमरन मंड से...

हिंदू नेताओं पर हमले के मामले में कांग्रेस नेता गुरसिमरन मंड से NIA करेगी पूछताछ

नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआइए) ने कांग्रेस के नेता और कट्टरपंथियों के खिलाफ बोलने वाले गुरसिमरन सिंह मंड को नोटिस भेज पेश होने को कहा है। मंड को 18 अप्रैल को एनआइए के चंडीगढ़ कार्यालय में पेश होने के लिए कहा गया है। गुरसिमरन मंड को यह नोटिस थाना सराभा नगर की पुलिस के जरिये भेजा गया है। दरअसल पंजाब के फिलौर के नजदीकी मट्ट वाली के मंदिर में पुजारी कमलदीप सिंह व एक महिला सेवदार सिमरनजीत कौर को गोली मार दी थी।

यह भी पढ़ें : बैसाखी की यादें: क्यों खास है आलिया-रणबीर के लिए 13 अप्रैल

पंजाब पुलिस ने 31 जनवरी 2021 को आपराधिक मामला दर्ज किया था और बाद में यह मामला एनआइए को भेज दिया गया था। एनआइए ने अलग से 8 सितंबर को एफआइआर दर्ज कर इस मामले की जांच शुरू की थी। जिसकी जांच लगातार की जा रही है। जिसमें विदेश बैठे आतंकी हरदीप सिंह निझर, अमनदीप सिंह मोगा, कमलजीत शर्मा मोगा, राम सिंह फिरोजपुर, गगनदीप सिंह निवासी फिरोजपुर को नामजद किया हुआ है।

गुरसिमरन सिंह मंड के अनुसार उसका केस से कोई लेना देना नहीं है, मगर फिर भी एनआइए की तरफ से उसे पेश होने को कहा गया है। एनआइए के समक्ष पेश होने के बाद ही पता चल सकेगा कि आखिर उसे क्यों बुलाया गया है।

कांग्रेस नेता गुरसिमरन सिंह मंड पहले भी कई बार विवादाें में रहे हैं। गुरसिमरन सिंह मंड ने काफी समय पहले लुधियाना में अपनी पगड़ी के साथ राजीव गांधी का बुत साफ किया था, जिस कारण उस समय भी जत्थेबंदियों के विरोध का उन्हें सामना करना पड़ा था। इसी कारण तख्त श्री केसगढ़ साहिब से माथा टेककर लौटते समय नौजवानों ने उनके खिलाफ नारेबाजी भी की थी।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates