Homeपॉलिटिक्सजनता दरबार में फरियादी की शिकायत सुब चौक गए नितीश कुमार

जनता दरबार में फरियादी की शिकायत सुब चौक गए नितीश कुमार

बिहार के सीएम नीतीश कुमार  का जनता के दरबार में मख्यमंत्री कार्यक्रम में सोमवार को राज्य के अन्य जिलों से आए शिकायतकर्ता विभाग से जुड़ी अपनी समस्या बता रहे हैं, जिनका त्वरित निराकरण भी किया जा रहा है। इसी दौरान जनता दरबारमें आए एक फरियादी की शिकायत सुनकर सीएम नीतीश कुमार चौंक गए। उन्होंने कहा कि कोई धमकी कैसे दे सकता है। उसके बाद तुरंत मुख्य सचिव को बुलाने का निर्देश दिया।

दरअसल एक शिकायतकर्ता ने सीएम के सामने बताया कि उसे पीएम आवास योजना का लाभ नहीं मिल रहा है। इस बात की शिकायत लोक शिकायत निवारण केन्द्र में भी की। लोक निवारण में जो पहली तारीख लगी उसमें गया भी लेकिन दूसरी तारीख में जाने से मना करने के लिए धमकी दी गई, जिसकी वजह से मैं नहीं गया। इतने सुनते ही सीएम नीतीश ने मुख्य सचिव को बुलाने का निर्देश दिया और कहा कि पूरे मामले को देखिए, पता करिए आखिर कौन है जो धमकी दे रहा है।

वहीं एक शिकायतकर्ता ने कहा कि आपके आदेश के बाद भी काम नहीं हो रहा है। पिछली बार भी त्रिवेणीगंज में पुल बनाने की हमने आपसे मांग की थी। आपने कहा था कि समस्या का सामाधान हो जाएगा। लेकिन आजतक कुछ काम नहीं हो सका है। शिकायत सुनने के बाद सीएम नीतीश कुमार ने तुरंत ग्रामीण कार्य विभाग के सचिव को फोन लगवाया और कहा कि ये पहले भी जनता दरबार में आ चुका है। हमने पुल बनाने को कहा था। लेकिन इसका कहना है कि वहां कोई काम नहीं हो सका है। सीएम ने कहा कि आप इसे देखिए और मामले का सामाधान करवाइए।

यह भी पढ़ें : धर्म पर अभद्र टिप्पड़ी करने के आरोप में अखिलेश के करीबी नेता गिरफ्तार

जनता दरबार में आज जल संसाधन, सूचना एवं जनसंपर्क, सहकारिता, वन एवं पार्यावरण विभाग, लघु जल संसाधन विभाग, नगर विकास, पंचायती राज, ऊर्जा, गन्ना विकास, ग्रामीण विकास सहित अन्य विभागों से जुड़ी समस्याओं को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सुन रहे हैं और उसके त्वरित निराकरण का आदेश दें रहे हैं।

मालूम हो कि मुख्यमंत्री जनता दरबार में शामिल होने के लिए वेब पोर्टल के जरिए रजिस्ट्रेशन कराया जाता है। रजिस्ट्रेशन के लिए जन्म तिथि, आधार कार्ड नंबर के साथ मोबाइल नंबर की जरूरत होती है। वेब पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के दौरान विवरण में आपको अपना नाम, मोबाइल नंबर के साथ ही साथ शिकायत से जुड़ी जानकारी देनी होती है। सारा विवरण देने के बाद आपको एक यूनिक नंबर अलाट किया जाता है। इस यूनिक नंबर के जरिए आप अपने आवेदन की स्थित के बारे में जान सकते हैं।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates