Homeपॉलिटिक्सपाकिस्तान आज करेगा इमरान की किस्मत का फैसला

पाकिस्तान आज करेगा इमरान की किस्मत का फैसला

इस्लामाबाद : पकिस्तान में आज सियासी भूचाल के परिणाम का दिन हैं। आज इमरान खान देश को सम्बोधित भी करेंगे। ऐसा माना जा रहा है कि वह इस्तीफा देंगे या आपातकाल की घोषणा करके सभी को चौंका सकते हैं। इमरान खान के खिलाफ विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर डिबेट से पहले इमरान खान की मुश्किलें बढ़ गई हैं। इमरान खान के सहयोगी दल MQM ने कैबिनेट से इस्तीफा देकर विपक्ष के मोर्चे से हाथ मिला लिया है।

इमरान के मंत्रियो ने किया बचाव
मीडिया से बात करते हुए पाकिस्तान के गृहमंत्री शेख रशीद ने बुधवार को कहा कि इमरान खान आज देश को संबोधित करेंगे। वहीं पाकिस्तान के सूचना एवं प्रसारण मंत्री फवाद चौधरी ने इमरान खान के इस्तीफे की अटकलों को खारिज करते हुए कहा कि वह इस्तीफा नहीं देंगे। चौधरी ने खान का बचाव करते हुए कहा कि वह आखिरी बॉल तक लड़ते रहेंगे।

इसे भी पढ़ें : अब जिन्न बचाएंगे इमरान की सत्ता, पाकिस्तान में चर्चा तेज़

‘अविश्वास प्रस्ताव विदेशी साज़िश ‘
इससे पहले इमरान खान कहा था कि वह 27 मार्च को इस्लामाबाद में अपनी सार्वजनिक रैली में संदर्भित ‘धमकी भरे पत्र’ को वरिष्ठ पत्रकारों और सरकारी सहयोगियों को दिखाएंगे। पाकिस्तानी अखबार एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। रिपोर्ट के अनुसार, ई-पासपोर्ट सुविधा की शुरुआत के अवसर पर इस्लामाबाद में एक समारोह के दौरान खान ने यह टिप्पणी की।

समारोह के दौरान, खान ने अविश्वास प्रस्ताव, विशेष रूप से उस कथित पत्र के अस्तित्व के बारे में बात की, जिसमें उनके अनुसार उन्हें सत्ता में बने रहने पर ‘गंभीर परिणाम’ की चेतावनी दी गई है। हालांकि, विपक्ष ने पीएम खान के दावों को खारिज कर दिया है और उनका कहना है कि इमरान खान को सत्ता से हटाने के लिए किसी बाहरी साजिश का कोई सबूत नहीं मिला है। इमरान खान ने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव संसदीय लोकतंत्र में एक ‘लोकतांत्रिक’ अधिकार है, लेकिन उनके अनुसार, वर्तमान अविश्वास प्रस्ताव ‘विदेशी शक्तियों द्वारा वित्त पोषित’ है।

‘एक बड़ी अंतर्राष्ट्रीय साजिश है अविश्वास प्रस्ताव’
इमरान खान ने कहा कि विदेशी शक्तियां पाकिस्तान के लोगों के लिए काम करने वाले नेतृत्व को स्वीकार नहीं कर सकतीं। उन्होंने आतंकवाद के खिलाफ संयुक्त राज्य अमेरिका के युद्ध की आलोचना करते हुए कहा कि पाकिस्तान ने विदेशी शक्तियों के लिए ‘अपने हितों का बलिदान किया’ लेकिन उन्होंने कभी भी इसके बलिदानों को ‘मूल्य’ नहीं दिया।

कथित पत्र की ओर इशारा करते हुए इमरान ने कहा कि वह इसे वरिष्ठ पत्रकारों और सहयोगी दलों को दिखाएंगे कि यह ‘वास्तविक’ ही है। उन्होंने कहा, ‘मैं इस दस्तावेज को शीर्ष पत्रकारों को दिखाऊंगा, क्योंकि इसका विवरण सार्वजनिक रूप से साझा नहीं किया जा सकता है।’ उन्होंने कहा कि यह ‘एक बड़ी अंतर्राष्ट्रीय साजिश’ का हिस्सा है।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates