सूर्यग्रहण और शनि जयंती के संयोग से बना दुर्लभ संयोग, आप पर यह होगा प्रभाव

0
51

साल का पहला सूर्य ग्रहण अप्रैल माह के अंत में यानी 30 अप्रैल को पड़ रहा है। ये सूर्य ग्रहण काफी खास है क्योंकि इस दिन शनिश्चरी अमावस्या भी पड़ रही है। इतना ही नहीं शनि अमावस्या के एक दिन पहले ही यानी 29 अप्रैल को शनि भी राशि परिवर्तन कर रहा है जिसका असर भी सूर्य ग्रहण के साथ मिलकर जातकों के जीवन पर पड़ेगा। ज्योतिषियों की मानें तो इस बार सूर्य ग्रहण के दिन काफी दुर्लभ संयोग बन रहा है।

यह भी पढ़ें : डिब्रूगढ़ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 7 नए कैंसर अस्पतालों की रखी आधारशिला

हिंदू नववर्ष विक्रम संवत 2079 की शुरुआत चैत्र मास की नवरात्रि के साथ हो गई थी। वहीं वैशाख माह का नववर्ष का दूसरे माह में सूर्य ग्रहण पड़ रहा है। ज्योतिषियों के मुताबिक, हिंदू नववर्ष विक्रम संवत 2079 के राजा शनि ग्रह हैं। ऐसे में शनि का मकर राशि से कुंभ राशि में प्रवेश करना कई जातकों के लिए लाभकारी साबित हो सकता है। वहीं 30 अप्रैल को शनिश्चरी अमावस्या और सूर्य ग्रहण का संयोग भी लग रहा है। माना जा रहा है कि पिता-पुत्र का ये संयोग करीब 100 बाद लग रहा है।

ज्योतिषों के अनुसार पिता-पुत्र का ये संयोग कई राशियों के लिए लाभकारी साबित हो सकता है। जिन जातकों की कुंडली में शनि साढ़े साती और ढैय्या चल रही हो वह शनिश्चरी अमावस्या के दिन अवश्य ही कुछ ज्योतिष संबंधी उपाय करें। जिससे शनि ग्रह के दुष्प्रभाव काफी हद तक कम हो जाएंगे।

साल का पहला सूर्य ग्रहण 30 अप्रैल को ही रात्रि 12 बजकर 15 मिनट से शुरू होगा और सुबह 4 बजकर 7 मिनट तक रहेगा। लेकिन भारत में सूर्य ग्रहण नहीं दिखाई देगा। जिसके कारण सूतक काल नहीं लगेगा। बता दें कि सूर्य ग्रहण शुरू होने के 12 घंटे पहले सूतक काल शुरू हो जाता है। जिसके साथ ही मांगलिक कार्य होना बंद हो जाते हैं।

सूर्य ग्रहण के दिन कई ग्रहों का संयोग
अमावस्या और सूर्य ग्रहण पर कई ग्रहों का दुर्लभ संयोग भी बन रहा है। जहां 29 अप्रैल को ढाई साल बाद शनि ग्रह कुंभ राशि में प्रवेश हो रहा है। बता दें कि कुंभ राशि में पहले से ही मंगल ग्रह मौजूद रहेगा। वहीं दूसरी ओर सूर्य ग्रहण मेष राशि में हो रहा है और मेष राशि में पहले ही चंद्रमा के साथ राहु बैठा हुआ है। ऐसे में हर राशि के जातकों के जीवन में काफी उथल पुथल होने वाली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here