Homeदिल्लीकांग्रेस के पोस्टर पर दिखे सावरकर

कांग्रेस के पोस्टर पर दिखे सावरकर

कांग्रेस की कन्याकुमारी से कश्मीर तक निकाली जा रही भारत जोड़ो यात्रा लगातार सुर्खियां बंटोर रही है। अब इस यात्रा को एक बार फिर राजनीतिक गलियारों में चर्चाओं का जोर है। वजह है वीर सावरकर। आप सोच रहे होंगे कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा में भला वीर सावरकर का क्या काम। दरअसल कांग्रेस की ओर से यात्रा के दौरान जिन फ्रीडम फाइटर्स के पोस्टर लगाए गए हैं, उन पोस्टर में सावरकर की भी तस्वीर दिखाई दे रही है। यही वजह है कि अब इन पोस्टर के चलते सियासी पारा हाई है। भारतीय जनता पार्टी ने इन पोस्टर को लेकर कांग्रेस पर तंज कसा है। कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा को लेकर कोच्चि में जगह-जगह पोस्टर लगाए गए। इन पोस्टर्स में स्वतंत्रता सेनानियों की तस्वीरें भी शामिल हैं। इन्ही स्वतंत्रता सेनानियों में एक तस्वीर वीर सावरकर की भी थी। जब इस बात की जानकारी कांग्रेस कार्यकर्ताओं को लगी तो उन्होंने आनन फानन में सावरकर की जगह गांधी जी की फोटो चस्पा कर दी। अब कांग्रेस की इसी हरकत को लेकर बीजेपी हमलावर है।

कन्याकुमारी से शुरू हुई भारत जोड़ो यात्रा गुरुवार को कोच्चि पहुंच रही है। बताया जा रहा है कि, यहां राहुल गांधी प्रेस कॉन्फ्रेंस भी करेंगे। यात्रा के स्वागत के लिए यहां लंबे-लंबे बैनर लगाए गए हैं, जिसमें स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की फोटो है। एक बैनर में गोविंद बल्लभ पंत और चंद्रशेखर आजाद की फोटो के बीच में विनायक दामोदर सावरकर की भी फोटो लगी थी। जैसे ही इसकी जानकारी कांग्रेसियों को लगी, तुरंत गांधी जी का एक पोस्टर मंगाया और सावरकर की फोटो के ऊपर लगा दिया। अब सोशल मीडिया पर उनकी फोटो वायरल हो रही है। भारतीय जनता पार्टी ने इस मामले को भुनाने की पूरी कोशिश की है। बीजेपी के नेता और आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय ने भारत जोड़ो यात्रा की इस तस्वीर को ट्वीट किया।

ये भी पढ़िए –बिहार नीट पीजी 2022 काउंसलिंग के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हुआ

उन्होंने लिखा – एर्नाकुलम में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा में वीर सावरकर की फोटो भी है। देर से ही सही, राहुल गांधी के लिए ये अच्छा रियलाइजेशन है, जिनके परनाना नेहरू ने पंजाब के नाभा जेल से सिर्फ दो हफ्ते में ही बाहर आने के लिए अंग्रेजों से गुहार लगाई थी और एक दया याचिका पर हस्ताक्षर किए थे। वहीं इस मामले पर कांग्रेस की ओर से रिएक्शन देते हुए भारत जोड़ो यात्रा के संयोजक के सुरेश ने कहा है कि, उन्हें लगता है कि जिस व्यक्ति ने ये बैनर प्रिंट किया है वो बीजेपी या आरएसएस का रहा होगा। उसने ये जानबूझकर किया है। कांग्रेस कार्यकर्ता बैनर पर सावरकर की फोटो लगाने के लिए कभी नहीं कहेगा। हम इसकी जांच करेंगे। सुरेश ने कहा कि, हमारे नेतृत्व ने इस मामले पर तुरंत एक्शन लिया है और यहां के स्थानीय नेता को सस्पेंड कर दिया है।

ये भी पढ़िए –ट्रेवल के शौकीन है तो करे ये कोर्स

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates