Homeअपराधप्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जम्मू आगमन से पहले सुंजवां इलाके में आतंकी...

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जम्मू आगमन से पहले सुंजवां इलाके में आतंकी हमला

जम्मू, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जम्मू आगमन से दो दिन पूर्व जम्मू के सुंजवां इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू हो चुकी है। इस मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन के दो आतंकी ढेर कर दिए गए हैं। एक जवान भी बलिदान हो गया है जबकि 11 जवान घायल हो गए हैं। घायलों का अस्पताल में इलाज जारी है।
जानकारी के अनुसार शुक्रवार सुबह 4.25 बजे आतंकियों ने चट्ठा कैंप के समीप सीआइएसएफ की बस पर अचानक ग्रेनेड से हमला कर दिया। बस में 15 सीआइएसएफ के जवान सवार थे। इस हमले के तुरंत बाद दोनों आतंकी छिप गए। इस हमले के उपरांत आतंकियों के साथ सुरक्षाबलों की मुठभेड़ शुरू हो गई और पांच घंटों के उपरांत दोनों को ढेर कर दिया गया।

इसी बीच जम्मू-कश्मीर पुलिस के महानिदेशक दिलबाग सिंह ने बताया कि मुठभेड़ के दौरान दोनों आतंकियों को ढेर कर दिया गया है। जम्मू जोन के एडीजीपी मुकेश सिंह के अनुसार, सुरक्षा एजेंसियों को लगातार ऐसी सूचना मिल रही थी कि आतंकी जम्मू में अपनी नापाक हरकत को अंजाम देने की फिराक में हैं। फिलहाल खतरा टल गया है। दोनों आतंकियों को ढेर कर दिया गया है। ऐसा प्रतीत होता है कि दोनों फिदायीन हमले की फिराक में थे। आतंकियों के कब्जे से दो एके 47 राइफल, सेटेलाइट फोन और अन्य आपत्तिजनक सामान बरामद हुआ है। इसी बीच सूत्रों के अनुसार इस मुठभेड़ में 11 जवान घायल हुए हैं।

इसे भी पढ़े :झारखंड सरकार के मुख्यमंत्री की कुर्सी खतरे में जानिए वजह

11 जवान हुए घायल, ये हैं इनके नाम

  • हैड कांस्टेबल बलराज सिंह पुत्र संसार सिंह निवासी बलोट कठुआ
  • एसपीओ साहिल शर्मा पुत्र रोमेश चंद्र निवासी ज्यौड़ियां अखनूर
  • हैड कांस्टेबल प्रमोद पात्रा पुत्र लक्ष्मी धर पात्रा निवासी ओडिशा
  • सीआइएसएफ का कांस्टेबल आमिर सोरना पुत्र सुशील सोरान निवासी असम
  • सीआइएसएफ कांस्टेबल बिट्टल
  • हैड कांस्टेबल सीआइएसएफ आर नितिन निवासी महाराष्ट्र
  • सीआइएसएफ हैड कांस्टेबल एसके बालियां पुत्र राम धन सिंह निवासी मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश
  • कांस्टेबल सन्नी कुमार पुत्र दुर्गा प्रसाद निवासी बिहार
  • कांस्टेबल पुनीत कुमार पुत्र सरोज कुमार निवासी बिहार
  • कांस्टेबल राजेश कुमार पुत्र केवल कृष्ण निवासी बसोहली कठुआ

सुंजवां में जारी मुठभेड़ के उपरांत जम्मू शहर के आसपास सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। शहर के भीतरी एवं बाहरी क्षेत्रों में स्थित नाकों से हर गुजरने वाले वाहनों की तलाशी ली जा रही है। सुंजवां में जारी मुठभेड़ में सीआइएस के एक एएसआइ एसपी पाटिल बलिदान हो गए हैं। मुठभेड़ में 6 घायल जवानों को अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया है। इनकी पहचान हैड कांस्टेबल बलराज सिंह पुत्र संसार सिंह निवासी बलोट कठुआ, एसपीओ साहिल शमा्र पुत्र रोमेश चंद्र निवासी ज्यौड़ियां अखनूर, हैड कांस्टेबल प्रमोद पात्रा पुत्र लक्ष्मी धर पात्रा निवासी ओडिशा, सीआइएसएफ का कांस्टेबल आमिर सोरना पुत्र सुशील सोरान निवासी असम, सीआइएसएफ कांस्टेबल बिट्टल और हैड कांस्टेबल सीआइएसएफ आर नितिन निवासी महाराष्ट्र के रूप में हुई है। सुरक्षा कारणों के मद्देनजर सुंजवां क्षेत्र में मोबाइल इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई है।

11 स्कूल बंद रखने का फैसला

सुंजवां और बठिंडी के आसपास के इलाकों में स्थित स्कूलों को भी बंद करवा दिया गया है। क्षेत्र में स्थित जोधामल स्कूल की प्रबंधन कमेटी ने इसे आज बंद रखने का फैसला किया है। इसी बीच जम्मू के मुख्य शिक्षा अधिकारी ने 10 प्राइवेट एवं सरकारी स्कूलों को एहतियात के तौर पर बंद रखने का आदेश जारी किया है। इनमें हायर सेकेंडरी स्कूल सुंजवां, हाई स्कूल बठिंडी, आइडीपीएस सुंजवां, आरएम पब्लिक स्कूल चौआदी, हाई स्कूल चौआदी, दून स्कूल, डीएस हेरिटेज, बिरला ओपन माइंड स्कूल, ब्रिटिश इंटरनेशनल स्कूल और जीपीएस चौआदी शामिल है।
सुंजवां में 2018 को भी हुई थी मुठभेड़

स़ुंजवा में 10 फरवरी 2018 को भी सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच एक मुठभेड हुई थी। इस मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकियों को सुरक्षाबलों ने ढेर कर दिया था। उस समय आतंकियों ने सुंजवां में आर्मी कैंप में घुसकर अचानक हमला कर दिया था। इस मुठभेड़ में छह जवान बलिदान हो गए थे जबकि एक नागरिक भी मारा गया था।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates