Homeलखनऊबच्चों में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए किया गया स्वर्णप्राशन

बच्चों में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए किया गया स्वर्णप्राशन

लखनऊ। टूडिय़ागंज स्थित राजकीय आयुर्वेद कॉलेज एवं अस्पताल में आजादी के अमृत महोत्सव के तत्वावधान में कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉ. प्रकाश चंद्र सक्सेना के निर्देश पर स्वर्णप्राशन शिविर लगाया गया। शिविर में करीब 145 से अधिक बच्चों को स्वर्णप्राशन कराया गया।

यह भी पढ़ें : केजीएमयू में हुआ न्यूरोक्रिटिकल केयर यूनिट का उद्घाटन

अस्पताल के मेडिकल अफसर डॉ. धर्मेंद्र ने बताया कि कैम्प की शुरुआत सुबह आठ बजे से प्रधानाचार्य डॉ. सक्सेना ने की। कैंप का आयोजन कौमारभृत्य (बालरोग) विभाग के डॉ. महेश नारायण गुप्ता, डॉ. रमेश कुमार गौतम एवं डॉ. लक्ष्मी द्वारा किया गया। विभाग के जेआर एवं इंटर्न की सहभागिता से इस पुष्य नक्षत्र में स्वर्णप्राशन की बूंदें पिलायी गईं। प्रत्येक माह बालरोग विभाग द्वारा ओपीडी नंबर दो में स्वर्णप्राशन जन्म से 16 वर्ष की आयु तक के बच्चो में पुष्य नक्षत्र तिथि में कराया जाता है। स्वर्णप्राशन से बच्चों में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। बुद्धि एवं स्मरणशक्ति को बल प्रदान करता है। सभी प्रकार के संक्रेामक रोगों से बच्चे को सुरक्षा प्रदान करता है। डॉॅ. धर्मेंद्र ने बतायया कि स्वर्णप्राशन के लिए अगले कैम्प का आयोजन चार जून को किया जाएगा, जिसमें 0-16 वर्ष तक के बच्चो स्वर्णप्राशन की खुराक मुफ्त में पिलाई जाएगी।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates