Homeलाइफस्टाइलहेल्दी रहने के लिए पीते हैं तांबे के बर्तन वाला पानी

हेल्दी रहने के लिए पीते हैं तांबे के बर्तन वाला पानी

तांबे के बर्तन में पानी पीना स्वास्थ्य के लिए भले ही बहुत अच्छा हो, लेकिन क्या आप जानते हैं कि ये तरीका भी हमें नुकसान पहुंचा सकता है. बर्तन में रखे पानी से जुड़ी कुछ गलतियों को लोग अक्सर दोहराते हैं. यहां हम आपको इन्हीं के बारे में बताने जा रहे हैं.

बर्तन में घंटों पानी को रखना: पानी को तांबे के बर्तन में ज्यादा देर के लिए नहीं छोड़ना चाहिए. लोग ज्यादा फायदे के चक्कर में घंटों पानी को इस तरह के बर्तन में रखने की भूल करते हैं. कहा जाता है कि पानी को रखने की अवधि ज्यादा से ज्यादा 6 घंटे होनी चाहिए.

ये भी पढ़ें –पितृ पक्ष में इन चीजों को खाने से बचना चाहिए

ज्यादा पानी पीना: आजकल लोग बाजार से तांबे की बोतल लेते हैं और उसमें पानी पीना पसंद करते हैं. वे एक बार में बोतल को खत्म करने की भूल करते हैं, जबकि ये तरीका नुकसान पहुंचा सकता है. आयुर्वेद में भी बताया गया है कि पानी को धीरे-धीरे पीना चाहिए और एक बार में इसकी मात्रा ज्यादा भी नहीं होनी चाहिए.

रात में पीना: पुराने समय में लोग तांबे के बर्तन वाला पानी पीते थे, लेकिन वे इसे रात में रखकर देते थे और सुबह इसका सेवन करते थे. आजकल लोग हेल्दी रहने के चक्कर में हर समय ऐसे पानी का सेवन करते हैं. एक्सपर्ट्स कहते हैं कि ऐसा पानी रात में शरीर में रिएक्शन पैदा कर सकता है.

एसिडिटी में पानी पीना: जिन लोगों को अक्सर एसिडिटी की समस्या रहती है, उन्हें तांबे के बर्तन में रखा हुआ पानी भूल से भी नहीं पीना चाहिए. एक्सपर्ट्स का मानना है कि ये हेल्थ को और नुकसान पहुंचा सकता है. कहा जाता है कि इस पानी को पीने से मतली, उल्टी या पेट खराब की समस्या हो सकती है.

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates