Homeएजुकेशनयूजीसी ने चेताया - पाकिस्तान से पढ़कर आने पर नहीं मिलेगी भारत...

यूजीसी ने चेताया – पाकिस्तान से पढ़कर आने पर नहीं मिलेगी भारत में नौकरी

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद ने भारतीय छात्रों को आगाह किया है कि वह पाकिस्तान के किसी भी कालेज में एडमिशन न लें। अगर वह ऐसा करते हैं तो देश के किसी भी कोने में उनको नौकरी नहीं मिलेगी।

इसके साथ ही वह भारत में आगे की पढ़ाई करने के हकदार भी नहीं होंगे। यूजीसी की गाइडलाइन में साफ तौर पर लिखा है कि स्टूडेंट्स को सलाह दी जाती है कि वह उच्च शिक्षा के लिए पाकिस्तान न जाएं और वहां शिक्षा लेकर मन में भारत में नौकरी पाने की लालसा अपने मन में कदापि न रखें। दरअसल, जम्मू-कश्मीर के सैकड़ों छात्र पाकिस्तान के इंजीनियरिंग कालेजों में कोर्स करने के लिए एडमिशन ले रहे हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक अभी तक काफी संख्या में छात्र पाकिस्तान के इंजीनियरिंग कालेजों में एडमिशन ले चुके हैं। वहीं, एआईसीटीई का साफ तौर पर कहना है कि पाकिस्तान में के गैर मान्यता प्राप्त संस्थानों में पढ़ाई करने के बाद हासिल की गई डिग्री भारतीय संस्थानों की डिग्री के बराबर नहीं होती. इस तरह की गैर मान्यता वाले संस्थानों की डिग्री प्राप्त करने के लिए अधिक शुल्क देने के बाद भी स्टूडेंट्स को भारत में नौकरी प्राप्त करने में परेशानी होती है।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए यूजीसी ने यह कदम उठाया है। उन्होंने बताया कि पिछले साल भी तकनीकी शिक्षा परिषद के सदस्य सचिव ने इससे संबंधित आधिकारिक सूचना जारी की थी। इसमें साफ-तौर पर कहा गया था कि पाकिस्तानी संस्थानों के इंजीनियरिंग और टेक्नोलॉजी पाठ्यक्रमों में दाखिले से पहले यह एनओसी हासिल करनी जरूरी है।

दूसरी तरफ जम्मू यूनिवर्सिटी के बाद अब कश्मीर यूनिवर्सिटी के नए वाइस चांसलर की नियुक्ति इस महीने के अंत तक हो जाएगी। वीसी पद के लिए 20 उम्मीदवारों को शार्टलिस्ट किया गया है। नई दिल्ली में 20 अप्रैल को सर्च कमेटी की बैठक हुई थी। फिलहाल, शार्टलिस्ट किए गए उम्मीदवारों में से पांच प्रोफेसर कश्मीर यूनिवर्सिटी के हैं। वीसी पद के लिए 130 से अधिक उम्मीदवारों ने आवेदन किया था।

यह भी पढ़ें : नई ट्रेनें चलाने का ऐलान बनारस और ऊधमपुर के लिए चलेगी विशेष ट्रेन

शार्टलिस्ट एक उम्मीदवार जम्मू यूनिवर्सिटी , बाबा गुलाम शाह बड़शाह यूनिवर्सिटी राजौरी के वीसी प्रो. अकबर मसूद , अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, जामिया मीलिया इस्लामिया, मौलाना आजाद नेशनल उर्दू यूनिवर्सिटी हैदराबाद, नेशनल इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलाॅजी श्रीनगर से हैं। कश्मीर यूनिवर्सिटी से शार्टलिस्ट हुए उम्मीदवारों में से प्रो. गुलाम मोहुउदीन, प्रो. फारूक अहमद मसूदी, प्रो. नीलाफर हसन खान शामिल थे।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates