हरिद्वार : नाबालिग के कुकर्म और वीडियो वायरल करने के मामले में हरिद्वार पुलिस ने तीन आरोपितों के गिरफ्तार किया। जिन्‍हें छुड़ाने के लिए भाजपा कार्यकताओं ने कोतवाली को घेर लिया। एएसपी ज्वालापुर ने कोतवाली पहुंचकर भाजपाइयों को शांत कराया। पुलिस ने तीनों आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

पुलिस के मुताबिक, ज्वालापुर क्षेत्र की महिला ने अपने नाबालिग बेटे से कुकर्म व अश्लील हरकत करने का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी थी। जांच में पता चला कि पड़ोस में रहने वाले तीन आरोपितों ने शर्मनाक हरकत को अंजाम दिया है। एक ने किशोर के साथ कुकर्म किया, दूसरे ने अपने मोबाइल से वीडियो बनाएं और तीसरे आरोपित ने इस वीडियो को वायरल किया।

यह भी पढ़ें : IPL 2022: खिलाड़ियों ने पुरानी टीम के खिलाफ किया ज़ोरदार प्रदर्शन

पुलिस ने देर रात तीनों आरोपितों को हिरासत में ले लिया। आरोपित एक भाजपा नेता के किराएदार के बेटे हैं, इसलिए उन्हें छुड़ाने के लिए भाजपा नेता कोतवाली पहुंचे। कोतवाली प्रभारी महेश जोशी ने नाबालिग से जुड़ा गंभीर मामला होने के चलते आरोपितों को छोड़ने से मना कर दिया। जिसके बाद भाजपा नेता ने अपने साथियों और समर्थकों को कोतवाली बुला लिया और गेट के बाहर धरना देकर जमकर हंगामा किया।

बाद में एएसपी ज्वालापुर रेखा यादव ने कोतवाली पहुंचकर भाजपाइयों को शांत कराया। इस मामले में पुलिस ने तीनों आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। एक आरोपित बालिग और दो नाबालिग बताए गए हैं। ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी महेश जोशी ने बताया कि तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है। नाबालिग आरोपितों को किशोर न्याय बोर्ड और वीडियो वायरल करने वाले बालिग आरोपित को कोर्ट में पेश किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here