Homeउत्तर प्रदेशजयंती पर योगी आदित्यनाथ ने किया बाबा साहब को याद

जयंती पर योगी आदित्यनाथ ने किया बाबा साहब को याद

भारतीय संविधान के निर्माता, समाजवादी तथा अर्थशास्त्री बाबा साहब डॉ. भीमराव आम्बेडकर की 131वीं जयंती पर देश उनको याद कर रही है। आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत भारत रत्न बाबा साहब डा. भीमराव आम्बेडकर की जयंती के अवसर पर लखनऊ में डा. बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय के स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल हुए।

डा. बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय के स्थापना दिवस पर बतौर मुख्य अतिथि शामिल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाबा साहब को महान समाजवादी बताया। उन्होंने कहा कि बाबा साहब का यह सपना था कि हम एक ऐसा समाज बनाए जहां भेद-भाव, अन्याय और शोषण के लिए कोई जगह ना हो। सभी लोग एक-दूसरे के सुख-दुख में खड़े और सभी समान रूप से विकास करें।

उन्होंने कहा कि बाबा साहब ने तो भगवान बुद्ध के अप्प दीपो भव: के भाव को जीवन में अंगीकार करने का प्रयास किया। यही कारण है कि आज केवल भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में जहां कहीं भी गरीबों, वंचितों व समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति की बात होती है। न्याय बंधुता व स्वाधीनता की बात होती है वहां पर बाबा साहब जी का नाम बड़ी श्रद्धा व सम्मान के साथ लिया जाता है। बाबा साहब जी के जन्म के दौरान छुआछूत व अस्पृश्यता की भावना थी। स्कूल सहित जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में आगे बढऩे के लिए इस प्रकार की भावना थी लेकिन उन्होंने पलायन का नहीं जीवन में संघर्ष का रास्ता अपनाया। प्रदेश में 43 लाख से अधिक गरीबों को एक-एक आवास पीएम आवास योजना व सीएम आवास योजना के अंतर्गत उपलब्ध होना व बिना भेदभाव के आज 2.61 करोड़ से अधिक गरीब परिवारों को एक-एक शौचालय उपलब्ध होना बाबा साहब जी के ही सपने को साकार करने जैसा है।

यह भी पढ़ें : पश्चिम बंगाल के सांसद ने रेप और मर्डर पर ममता बनर्जी को सुनाई खरी खोटी

मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत के संविधान में समानता, न्याय और बंधुत्व की भावना का जो भाव बाबा साहब जी ने नागरिकों को दिया है उन भावनाओं का परिणाम है कि दुनिया में सबसे बड़े लोकतंत्र के रूप में आज भारत न केवल एक आश्चर्य बना हुआ है बल्कि एक नई प्रेरणा के साथ आगे बढ़ रहा है। मैं इस अवसर पर आप सभी को बाबा साहब जी की पावन जयंती की, बैसाखी पर्व की व महावीर जयंती की हृदय से बधाई देता हूं और अपनी शुभकामनाएं व्यक्त करता हूं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार लखनऊ में बाबा साहब का एक भव्य स्मारक व सांस्कृतिक केन्द्र की स्थापना के कार्यक्रम को तेजी के साथ आगे बढ़ाने का कार्य कर रही है। मेरा विश्वास है कि अगला कार्यक्रम उसी केंद्र में होगा, बाबा साहब जी पर शोध करने के लिए हमारे युवाओं के लिए स्कॉलरशिप की व्यवस्था होगी। वहां पर बड़ा पुस्तकालय होगा, जिसके माध्यम से हम वर्तमान व भावी पीढ़ी के लिए एक नई प्रेरणा व प्रकाश के लिए बाबा साहब जी जैसे महान व्यक्तितत्व को सामने रखकर, उन्हें आगे बढऩे के लिए प्रेरित कर पाएंगे।

उन्होंने कहा कि हम सब आभारी हैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जिन्होंने बाबा साहब को सर्वाधिक सम्मान दिया। बाबा साहब के पंचतीर्थों की स्थापना कराई। उन्होंने महू छावनी मध्य प्रदेश में, दीक्षा भूमि नागपुर में, चैत्य भूमि मुंबई में जहां बाबा साहब ने वकालत प्रारम्भ की थी। इंग्लैंड के उस भवन को लेकर और दिल्ली के महापरिनिर्वाण भवन को भी उनके भव्य स्मारक के तौर पर अंतरराष्ट्रीय सांस्कृतिक केंद्र के रूप में विकसित करके बाबा साहब को सम्मान देने का कार्य किया है। आज अत्यंत पावन तिथि है। आज ही के दिन भारत रत्न बाबा साहब डॉ. भीमराव आंबेडकर जी ने जन्म लिया था। आज खालसा पंथ की स्थापना की तिथि भी है और बैसाखी का पर्व भारत की सनातन धर्म की परंपरा में आदि काल से हम लोग पवित्र तिथि के रूप में आज ही मनाते रहे हैं।

Stay Connected
16,985FansLike
61,453SubscribersSubscribe
Latest Post
Current Updates